न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#MeToo पीछा नहीं छोड़ रहा अकबर का, एनपीआर की चीफ बिजनेस एडिटर ने रेप का आरोप लगाया

अमेरिका में रह रही  नैशनल पब्लिक रेडियो (एनपीआर) की चीफ बिजनेस एडिटर पल्लवी गोगोई ने पूर्व  एमजे अकबर पर रेप का आरोप लगाया है

22

NewDelhi : #MeToo विवाद पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा सांसद एमजे अकबर का पीछा नहीं छोड़ रहा है. अब अमेरिका में रह रही  नैशनल पब्लिक रेडियो (एनपीआर) की चीफ बिजनेस एडिटर पल्लवी गोगोई ने पूर्व  एमजे अकबर पर रेप का आरोप लगाया है. पल्लवी गोगोई के अनुसार 23 साल पूर्व एशियन एज में काम करने के दौरान संपादक एमजे अकबर ने उनका रेप किया.  सीनियर जर्नलिस्ट पल्लवी गोगोई ने वॉशिंगटन पोस्ट में एक आर्टिकल में विस्तार से लेख लिखा है कि 1994 में अकबर ने किस तरह से उनका यौन शोषण किया. खबरों के अनुसार वॉशिंगटन पोस्ट ने इस संबंध में एमजे अकबर के वकील संदीप कपूर से संपर्क किया तो उनका जवाब था कि मेरे मुवक्किल अकबर ने इन आरोपों को झूठा कहा है. पल्लवी ने अपने आर्टिकल में लिखा है कि जब वह एक ओप-एड पेज तैयार कर अकबर को दिखाने ले गयीं, तो उन्होंने तारीफ की. लेकिन अचानक वह उन्हें किस करने के लिए पकड़ने लगे.

पल्लवी ने लिखा है कि वह अकबर के केबिन से शर्मिंदगी और दर्द की स्थिति में बाहर निकल गयीं. पल्लवी के आरोपों के अनुसार ऐसा आखिरी बार नहीं हुआ था.  इस क्रम में पल्लवी ने लिखा है कि इस घटना के कुछ माह बाद अकबर ने उन्हें एक मैगजीन लॉन्च करने के लिए मुंबई बुलाया. उन्होंने वहां होटल में पल्लवी को किस करने की कोशिश की, तब वह उन्हें धक्का देकर रोते हुए बाहर निकल आयी. कहा कि अकबर ने उन्हें नौकरी से निकालने की धमकी दी.

इसे भी पढ़ेंःहाईकोर्ट निर्माण मामले में सरकार 14 दिसंबर तक दे जवाबः हाईकोर्ट

पल्लवी ने लिखा है कि उस होटल रूम में उनके साथ रेप हुआ

palamu_12

पल्लवी ने अपने आर्टिकल लिखा है कि इन सब घटनाओं के बावजूद उन्होंने काम जारी रखा. वे कहती हैं कि ऑफिस के एक असाइनमेंट में उन्हें जयपुर जाना पड़ा.  वहां अकबर ने स्टोरी के सिलसिले में उन्हें होटल के  कमरे पर बुलाया. पल्लवी ने लिखा है कि उस होटल रूम में उनके साथ रेप किया गया. अकबर ने उनके कपड़े फाड़े, रेप किया.  पल्लवी ने लिखा कि मैंने लड़ने की कोशिश की लेकिन अकबर शारीरिक रूप से ज्यादा ताकतवर थे.  पल्लवी के अनुसार वह इस मामले में पुलिस को रिपोर्ट कराने की बजाय शर्मिंदगी से भर उठी थीं. बाद में पल्लवी ने नौकरी छोड़ दी.  बता दें कि एमजे अकबर पर करीब एक दर्जन महिला पत्रकारों ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाये हैं. इसके बाद उन्हें मोदी कैबिनेट से इस्तीफा देना पड़ा था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: