Corona_Updates

#Ranchi DC ने कहा – अब जहां कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलेंगे, उस इलाके को बनाया जायेगा माइक्रोकंटेनमेंट जोन

Ranchi : राजधानी में तेजी से फैलते कोरोना वायरस के संक्रमण को देख रांची के डीसी राय महिमापत रे ने कहा कि अब जहां से भी कोविड मरीज की पुष्टि होती है, वहां के एरिया को माइक्रोकंटेनमेंट ज़ोन घोषित करते हुए आसपास के घरों के आवागमन को पूर्णतः सील किया जायेगा. 500 मीटर का बफर जोन भी बनाया जायेगा.

इसमें इंसिडेंट कमांडर की अनुमति पर आवश्यकतानुसार विशेष परिस्थिति में आवागमन की अनुमति दी जा सकेगी. डीसी ने यह बात मंगलवार को कोविड-19 के संक्रमण के प्रभाव के रोकथाम को लेकर आर्यभट्ट सभागार में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में दी. इस दौरान रांची एसएसपी अनीश गुप्ता, डीडीसी अनन्य मित्तल, रांची में विभिन्न कोषांग के नोडल पदाधिकारी, सभी बीडीओ, सीओ सहित कई अधिकारी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – #Corona : रांची में कोरोना संक्रमण 1 मामला सामने आया, राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 104 हुई

माइक्रोकंटेनमेंट जोन में किसी को जाने की नहीं होगी इजाजत

डीसी ने कहा कि कोरोना पॉजिटिव मरीज़ की पुष्टि होने पर उसे आइसोलेशन वार्ड में भेज देना है. मेडिकल ऑफिसर बतायेंगे कि मरीज असिम्प्टोमैटिक है या सिम्प्टोमैटिक. डीसीएलआर को कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के लिए सम्पर्क किया जायेगा.

उन्होंने कहा कि रांची जिला को पूरी तरह से सील कर दिया गया है. अंचलवार सभी सीओ को इंसिडेंट कमांडर बनाया गया है. कोई भी पॉजिटिव मरीज निकलता है तो वहां माइक्रोकंटेनमेंट ज़ोन बनाया जायेगा. किसी भी व्यक्ति को कन्टेनमेंट ज़ोन में आनेजाने की अनुमति नहीं होगी. केवल प्राणरक्षक सेवाओं और अतिआवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को विशेष परिस्थिति में अनुमति स्थानीय इंसिडेंट कमांडर ही दे सकते हैं.

इसे भी पढ़ें – #LockDown का असर: लातेहार की जामा मस्जिद में चिपकाया गया पोस्टर, लोगों से घरों में ही इबादत की अपील की गयी   

इलाके में सभी को आरोग्यसेतु ऐप इंस्टॉल कराना होगा अनिवार्य

उन्होंने कहा कि माइक्रोकंटेनमेंट ज़ोन के इलाकों में कोई भी किराना दुकान, फल दुकान, सब्जी तथा केमिस्ट की दुकान को खोलने के संबंध में इंसिडेंट कमांडर अनुमति देने के लिए सक्षम होंगे. परन्तु सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना साथ ही साथ मास्क या फेस कवर लगाना भी अनिवार्य होगा. इलाके में सभी पड़ोसियों को आरोग्यसेतु ऐप इंस्टॉल करवाना होगा. उन्होंने कहा कि हर ब्लॉक में कांटेक्ट ट्रेसिंग, पॉजिटिव केस के मूवमेंट, राशन की आपूर्ति के लिए वरीय और नोडल पदाधिकारियों को ज्यादा सतर्क रहने की आवश्यकता है.

खबर सही है तो आवश्कतानुसार कार्रवाई की जरूरत : एसएसपी

बैठक में एसएसपी ने कहा कि रैंडम चेकिंग बढ़ाने की जरूरत है. लॉकडाउन का उल्लंघन करने के मामले में केस दर्ज करने में नहीं हिचकिचाएं. किसी भी माध्यम से कोई खबर आती है तो उस खबर की गलत होने की स्थिति में खंडन करें तथा खबर अगर सही है तो आवश्यकतानुसार कार्रवाई करने की जरूरत है. सभी इंसिडेंट कमांडर अपने क्षेत्र में सक्रिय भूमिका निभाएं. किसी भी तरह के वाहन के आवागमन को हमेशा मोनिटरिंग रखें. उन्होंने कहा कि किसी भी परिस्थिति में हॉटस्पॉट ज़ोन से किसी भी व्यक्ति के आवागमन की इजाजत नहीं है, चाहे उक्त व्यक्ति के संबंध में पास जारी भी किया गया हो.

इसे भी पढ़ें – ना खाउंगा-ना खाने दूंगा वाली सरकार ने जानबूझ कर कर्ज न चुकाने वाले मेहुल चौकसी, बाबा रामदेव, विजय माल्या समेत 50 डिफॉल्टर का 68,607 करोड़ का कर्ज माफ किया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button