Lead NewsNationalNEWS

अब हर माह होगी बिजली दरों में बदलाव, केंद्र कर रहा है तैयारी

New Delhi: पेट्रोल व डीजल की तर्ज पर अब हर माह बिजली की दरों में बदलाव संभव है. हालांकि, पेट्रोल व डीजल की कीमतों में रोजाना बदलाव हो रहा है. केंद्रीय विद्युत मंत्रालय इस तरह की योजना तैयार कर रही है. इसका मकसद विद्युत उत्पादन गृहों में इस्तेमाल होने वाले कोयला, तेल और गैस आदि की कीमतों के आधार पर बिजली दरें तय होंगी.

केंद्रीय विद्युत मंत्रालय ने विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 176 के तहत 2005 में पहली बार विनियम बनाए थे. अब इसमें संशोधन की तैयारी है. इसके लिए विद्युत (संशोधन) विनियम 2022 का मसौदा जारी कर दिया गया है. दरअसल, संसद के मानसून सत्र में विद्युत (संशोधन) विधेयक 2022 के पारित न हो पाने के कारण सरकार ने विनियमों में संशोधन के जरिए इसके प्रावधानों को लागू करने की दिशा में कदम बढ़ाया है. संभव है कि अगले साल की शुरुआत से यह प्रभावी हो जाए.

केंद्रीय विद्युत मंत्रालय के उप सचिव डी. चट्टोपाध्याय की ओर से 12 अगस्त को सभी राज्य सरकारों समेत अन्य संबंधित इकाइयों को मसौदा भेजकर 11 सितंबर तक सुझाव मांगे हैं. मसौदे के पैरा 14 में यह प्रावधान है कि वितरण कंपनी द्वारा बिजली खरीद की धनराशि की समय से वसूली के लिए ईंधन की कीमतों के आधार पर हर महीने बिजली दरें तय की जाएंगी और इसकी वसूली उपभोक्ताओं से की जाएगी. फिलहाल बिजली नियामक आयोग बैठक कर बिजली की दर करता है. वह भी साल में एक या दो बार. नई व्यवस्था लागू होने से हर माह बिजली की दर बदली रहेगी.

Sanjeevani

Related Articles

Back to top button