Education & Career

अब कॉमिक्स के रूप में आयेगी झारखंड के जनजातीय नायकों की कहानी

♦स्कूली बच्चे पढ़ेंगे, शिक्षा विभाग ने शुरू की तैयारी

Jharkhand Rai

Anuj Tiwari

Ranchi : सरकार अब झारखंड के नायकों पर कॉमिक्स बना कर बच्चों को पढ़ायेगी. शिक्षा विभाग ने इस संदर्भ में प्रस्ताव बनाया है, जिस पर जल्द ही मुहर लगने की उम्मीद जतायी जा रही है. इन कॉमिक्स को सभी सरकारी स्कूल के बच्चों को उपलब्ध कराया जायेगा. विभागीय सूत्रों के अनुसार इन कॉमिक्स में झारखंड के वैसे वीर नायकों के चरित्रों का वर्णन होगा जिससे बच्चों को उनके बारे में जानकारी मिल सके और वे उससे प्रेरणा ले सकें.

छात्रों को जनजातीय नायकों की जानकारी अभी तक पुस्तकों से मिलती आ रही है, लेकिन इसे बोझिल न बनाते हुए इसे दिलचस्प बनाने की योजना है. मालूम हो कि राज्य में करीब 40 लाख सरकारी स्कूलों में छात्र-छात्राएं पढ़ते हैं, जिन्हें अपने राज्य के लोकनायकों की जानकारी मिल सकेगी.

Samford

इसे भी पढ़ें – ट्रैफिकर ने ‘नर्क’ में ढकेल दिया था झारखंड के 66 बच्चों को, इन्हें एयरलिफ्ट कराकर घर लायेगी सरकार

ट्राइबल रिसर्च इंस्टीच्यूट आरटीआइ ने शिक्षा विभाग को पत्र लिख कॉमिक्स पढ़ाने की सलाह दी है. इसमें सभी जनजातीय नायकों के नामों का जिक्र है जिन्होंने अपने शौर्य से झारखंड का नाम रोशन किया है. इसमें सबसे बड़े नायक बिरसा मुंडा के नाम का भी जिक्र है. साथ ही अन्य नायकों को भी इसमें जगह दी गयी है. प्रयास यह किया जा रहा है कि हर जिले से नायक लिये जा सकें.

इसे भी पढ़ें – News Wing Impact : विवादों में घिरे रांची के डीसीओ मनोज कुमार हटाये गये

कार्टून पढ़ने में बच्चे दिखाते हैं दिलचस्पी

पढ़ाई को दिलचस्प बनाने के लिए इस तरह की पहल की जा रही है. बच्चों को कार्टून देखना पसंद है, इसे ध्यान में रखते हुए विभाग हर झारखंडी नायकों के लिए अलग-अलग कार्टून कैरेक्टर बनाया जायेगा. इसे उसी फॉर्मेट में रखा जायेगा जिसमें अन्य कॉमिक्स बनते हैं. बच्चों की पसंद के अनुसार ही कॉमिक्स उन्हें दिये जायेगे.

शिक्षक देंगे जानकारी व लाइब्रेरी में मिलेगी कॉमिक्स

कॉमिक्स को लेकर शिक्षक बच्चों को जानकारी देंगे. साथ ही बच्चों की सुविधा के लिए इसे लाइब्रेरी में भी उपलब्ध कराया जायेगा ताकि बच्चे इसे आसानी से पढ़ सकें..

इसे भी पढ़ें – Chatra : एनटीपीसी ने रैयतों के मकान पर चलवाया बुलडोजर

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: