न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अब सरकारी स्कूल की अरशी भी सेल्फ डिफेंस से शरारती तत्वों का कर सकेगी मुकाबला

283

Jharia: अब सरकारी स्कूल की लड़कियां भी शरारत करने वाले लड़कों का मुकाबला कर सकेंगी. अब इन लड़कियों को इसके लिए आत्‍मरक्षा के तौर तरीकों को सीखाया जा रहा है. राजकीय कन्‍या उच्‍च विद्यालय बाघा की अरशी इकबाल इस बात से बहुत खुश है कि कल तक जो हुनर प्राइवेट स्‍कूलों के बच्‍चों को सीखने को मिलता था, अब वह उन्‍हें भी सीखने को मिलता है. अरशी ने बताया है कि सेल्‍फ डिफेंस के तौर तरीके सिखने के बाद वह बिना डरे कहीं भी आ सकती है और मुश्किल वक्‍त में अपनी सुरक्षा के साथ साथ दूसरों की भी मदद कर सकती है.

आरशी इकबाल, छात्रा

तीन महीने की ट्रेनिंग और लड़कियां सीख रही सेल्‍फ डिफेंस के गुर

जी हां, राजकीय कन्‍या उच्‍च विद्यालय बाघा की सभी छात्राओं में आरशी के जैसा आत्‍मविश्‍वास बढ़ गया है. इस सरकारी स्‍कूल में पिछले दो सालों से छात्राओं को सेल्‍फ डिफेंस के लिए ताईकांडो और कराटे की ट्रेनिंग दी जा रही है. यहां पर लड़कियां सिर्फ तीन महीने की ट्रेनिंग में सेल्‍फ डिफेंस के लिये पुरी तरह तैयार हो जाती हैं. कोई भी परेशान करने उसका वह हिम्‍मत के साथ जवाब दे सकती हैं. चाहे कोई छेड़खानी करे या किडनैपिंग की कोशिश करे वह ऐन मौके पर मुंहतोड़ मुकाबला कर सकती हैं.  

सरकार कर रहा है सहयोग

प्रमोद सिंह, प्रभारी प्रधानाध्‍यापक

स्‍कूल के प्रभारी प्रधानाध्‍यापक प्रमोद सिंह ने बताया कि स्‍कूल में केंद्र सरकार के सहयोग से छात्राओं को कराटे और ताईक्‍वांडो की ट्रेनिंग दी जा रही है. सरकार की सोच है कि लड़कियां किसी भी मामले में कम नहीं हैं, वह अपनी सुरक्षा खुद कर सकती हैं. इसके लिए सरकार के द्वारा फंड दिया जाता है और उसी से लड़कियों को यह सेल्‍फ डिफेंस का प्रशिक्षण दिया जाता है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: