NationalTOP SLIDER

अब 1 फरवरी को संसद मार्च करेंगे आंदोलनकारी किसान

Uday Chandra

New Delhi : सरकार और किसानों के बीच तकरार बढ़ती जा रही है. गणतंत्र दिवस के अवसर पर शर्तों के साथ ट्रैक्टर पैरेड की अनुमति दिये जाने के बाद अब किसानों ने 1 फरवरी को संसद मार्च का ऐलान कर दिया है. किसानों के इस नये ऐलान ने एक बार फिर दिल्ली पुलिस की परेशानी बढ़ा दी है. 1 फरवरी को संसद में बजट पेश होना है. किसान नेता दर्शन पाल ने कहा कि हमारी लड़ाई मोदी सरकार से है. क्रांतिकारी किसान यूनियन के दर्शन पाल ने कहा है कि किसान 1 फ़रवरी को दिल्ली के अलग-अलग जगहों से संसद की ओर पैदल मार्च करेंगे. 9 जगह से किसान गणतंत्र परेड निकलेगा, जो भी परेड होगा वो शांतिपूर्ण तरीके से होगा और इससे देश की गणतंत्र की इज्जत बढ़ेगी.

इसे भी पढ़ें :सद्भावना की मिसाल :  मुस्लिम दंपती ने राम मंदिर निर्माण के लिए 1.51 लाख रुपये दिये, अयोध्या में जाकर मत्था टेका

ट्रैक्टर परेड को लेकर दिल्ली पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव ने यह साफ कर दिया है कि अगर कुछ लोगों ने परेड का फायदा उठाने की कोशिश की तो उन पर दिल्ली पुलिस कार्रवाई करेगी. ऐसे लोगों पर दिल्ली पुलिस की नजर है. उन्होंने कहा कि किसान तय रूट पर परेड करेंगे, लेकिन वादा और नियम तोड़े गये तो पुलिस एक्शन लेने से पीछे नहीं हटेगी.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: