Lead NewsNationalNEWSTOP SLIDER

अब 12 साल से कम उम्र के बच्चों को भी कोरोना टीका देने की तैयारी, फाइजर ने शुरू किया ट्रायल

New Delhi: कोरोना की तीसरी लहर में बच्चों पर घातक प्रभाव की आशंका के बीच कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने वाली अमेरिकी कंपनी फाइजर ने 12 साल के कम आयु वर्ग के बच्चों पर टीके का ट्रायल शुरू कर दिया है. अमेरिका, फिनलैंड, पोलैंड और स्पेन के 4500 बच्चों का इसके लिये चुनाव किया गया है.

इसे भी पढ़ेंःCorona Update: पूर्वी सिंहभूम ने बढ़ाई चिंता, 24 घंटे में 358 नये संक्रमित मिले, जानें-झारखंड की क्या है स्थिति

बताया जा रहा है कि पहले चरण में कम संख्या में छोटे बच्चों को वैक्सीन की अलग-अलग खुराक दी जाएगी.फाइजर ने कहा कि वह परीक्षण के पहले चरण में वैक्सीन की छोटी डोज का चयन करने के बाद 12 साल से कम उम्र के बच्चों के एक बड़े समूह में कोविड-19 टीकाकरण का परीक्षण शुरू कर दिया गया है.

 

advt

कंपनी ने बताया कि वैक्सीनेशन ट्रायल के लिए इस हफ्ते 5 से 11 साल के बच्चों के चयन करने का काम शुरू किया जाएगा. इन बच्चों को 10 माइक्रोग्राम की दो खुराकें दी जाएंगी. यह डोज किशोर और वयस्कों को दी जाने वाली वैक्सीन की खुराक का एक तिहाई है. इसके कुछ हफ्ते बाद 6 महीने से अधिक उम्र के बच्चों पर टीके का ट्रायल शुरू किया जाएगा.

 

फाइजर के अलावा मॉडर्ना भी 12-17 साल के बच्चों पर वैक्सीन टेस्ट कर रही है और जल्द ही उसके नतीजे भी सामने आ सकते हैं. मालूम हो कि 12 साल से अधिक उम्र के बच्चों को अमेरिका व यूरोपीय संघ में फाइजर का टीका लगाने की मंजूरी मिल चुकी है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: