JharkhandLead NewsRanchi

सिमडेगा के बांसपहार में अब हो रही बहुफसली खेती

Ranchi: कृषि पशुपालन एवं सहकारिता विभाग के सचिव अबु बक्कर सिद्दीक ने बांसपहार में आयोजित कृषि संवाद कार्यक्रम में भाग लिया. उन्होंने कृषि संवाद कार्यक्रम में उपस्थित ग्रामीणों को कहा कि आपको सिंचाई सुविधा मिली, आपने बांसपहार की भूमि को उपजाऊ बनाया. यह देखने में भी बहुत अच्छा लगता है. जहां एक बार खेती होती थी, आज सालों भर कृषि के कार्यों को बढ़ावा मिल रहा है. किसान आगे फूल की खेती एवं अन्य संभावनाओं को तरासते हुए कृषि कार्य करेंगे.

उन्होंने कहा कि हर इंसान को आगे बढ़ना है तो मेहनत करनी पड़ती है. बांसपहार में जो सुविधा बहाल की गयी है, उसका आप लोग मेहनत कर लाभ ले रहे हैं, परन्तु इस मेहनत को आगे भी बरकरार रखें.

advt

इसे भी पढ़ें:राज्य में महिलाओं को सरकारी नौकरियों में मिलेगा पांच प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण

मिट्टी और पौधा अपने बाल-बच्चा जैसा होता है. इसे कभी छोड़ना नहीं चाहिए. अपने बाल बच्चे की तरह खेती की देख- रेख नजदीक से करनी पड़ती है, तभी अच्छा किसान बन पाते हैं.

उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत एक हेक्टेयर भूमि पर स्प्रिंकलर या ड्रीप एरिगेशन की योजना दी जाती है.

इसे भी पढ़ें:Covaxin या Covishield, कौन सी वैक्सीन Omicron के खिलाफ ज्यादा असरदार? जानें एक्सपर्ट्स की राय

जिन्हे सिंचाई हेतु स्प्रिंकलर व ड्रीप एरिगेशन की आवश्यकता हो, तो आवेदन दें, 90 प्रतिशत अनुदान पर सिंचाई योजना का लाभ मिलेगा. पानी के महत्व के बारे में बताते हुए एक-एक बूंद पानी का उपयोग करने पर बल दिया.

उन्होंने कहा कि लैम्पस के माध्यम से कृषि कार्य के उपकरणों का बैंक अधिष्ठापित होगा. ट्रैक्टर, पावर ट्रिलर, कॉनोविडर सहित खेती में प्रयोग आने वाली मशीन उपकरण बैंक में आ सकती है. 80 प्रतिशत अनुदान पर योजना का लाभ मिलेगा. भूमि सरंक्षण विभाग यह सुविधा देगा.

सरकार के द्वारा आपको सहयोग दिया जा रहा है, ताकि आपको देखकर बाकी लोग भी अच्छा करें. राशि का भी सदुपयोग होगा. उन्होंने ग्रामीणों को विभाग से सम्पर्क में रहने की बात कही.

इसे भी पढ़ें:लेबर कमिश्नर संग श्रमिक संगठनों और प्रबंधन की वार्ता बेनतीजा, एचईसी में हड़ताल जारी

उन्होंने कहा कि मछली पालन, बत्तख, मुर्गी, बकरी, सुकर पालन की योजना है जो व्यक्ति जिस कार्य में माहिर है, वो उसका लाभ लें. मार्केट लिकेंज में कोई समस्या न हो, आपको सही समय पर सही दाम मिले, इस दिशा में प्रयास रहेगा.

एमएसपी के बारे मे जानकारी देते हुए कहा कि सरकार के द्वारा धान अधिप्राप्ति योजना के तहत् उचित मूल्य पर लैम्पस के माध्यम से धान का क्रय किया जा रहा है, थोड़ा धैर्य रखें, सरकारी पैक्स में ही धान दें. आपकी मेहनत का सही फल आपको मिलेगा.

इसे भी पढ़ें:बरहेट में मुख्यमंत्री ने किया 1296 योजनाओं का उद्घाटन-शिलान्यास

सिमडेगा उपायुक्त सुशांत गौरव ने कहा कि जिले में संचालित सोलर आधारित लिफ्ट एरिगेशन की सुविधा को देखा, किसानों से सफलता की कहानी सुनी.

बांसपहार के ग्रामीण धान की खेती के अलावा सब्जी की खेती भी कर रहे हैं. इसके पूर्व उन्होने बांसपहार में की गई खेती का निरीक्षण कर जायजा लिया.

इसे भी पढ़ें:जेबीवीएनएल ने नियामक आयोग को दिया बिजली दर बढ़ाने का प्रस्ताव

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: