JharkhandRanchi

अब विदेशी पर्यटकों को भी पसंद आ रहा है झारखंड,2019 में आये 1,76,043 विदेशी पर्यटक

बीते 20 साल में पर्यटकों की संख्या 1000 गुणा बढ़ी

Rahul Guru

Ranchi : प्राकृतिक संपदा, जंगल और झरनों के राज्य झारखंड को दुनिया भर के लोग पसंद कर रहे हैं. पर्यटक स्थलों तक पहुंचना आसान और सुरक्षित हो गया है. अब मिल रही सुविधाओं को देखते हुए राज्य में विदेशी पर्यटकों की संख्या में अप्रत्याशित वृद्धि हुई है. राज्य गठन के समय से लेकर बीते साल तक राज्य में विदेशी पर्यटकों की संख्या में 1000 गुणा से भी अधिक की वृद्धि हुई है. साल 2000 में राज्य में विदेशी पर्यटकों की संख्या केवल 172 थी, वो साल 2019 में 1,76,043 हो गयी. साल दर साल इस आंकड़ें में बढ़ोत्तरी ही हो रही है.

इसे भी पढ़ें-घाटशिला: वन विभाग के डिपो में लगी भीषण आग, लाखों रुपये की कीमती लकड़ी जलकर स्वाहा

नेशनल रैंकिंग में भी हुई है वृद्धि

इंडिया टूरिज्म स्टेटिस्टिक्स 2019 की रिपोर्ट के अनुसार राज्य में विदेशी पर्यटकों की संख्या में वृद्धि होने से राज्य की रैंकिंग भी बढ़ी है. इंडिया टूरिज्म स्टेटिस्टिक्स 2019 की रिपोर्ट के मुताबिक विदेशी पर्यटकों के राज्य आने के मामले में साल 2018 में झारखंड की नेशनल रैंकिंग जहां 17 थी. वहीं इस साल 16 हो गयी है. इसी तरह देसी पर्यटकों के आने के मामले में राज्य की नेशनल रैंकिंग जहां 13 थी, उसमें अप्रत्याशित इजाफा हुआ है. इसमें देशभर में राज्य की रैंकिंग 9 है.

इसे भी पढ़ें-बर्ड फ्लू के खतरे से बेफिक्र, पक्षियों से अपनी दोस्ती निभा रहा है यह शख्स   

2019 में आये सर्वाधिक 1.76 हजार पर्यटक

अब टूरिज्म डिपार्टमेंट के आंकड़ों की बात करें तो राज्य स्थापना काल यानी साल 2000 में देसी पर्यटकों के आने की संख्या केवल 23991 थी. वहीं विदेशी पर्यटकों की संख्या मात्र 172 थी. लेकिन 20 साल बाद राज्य में आने वाले देसी पर्यटकों की संख्या 3,55,80,768 है. वहीं विदेशी पर्यटकों की संख्या 1,76,043 है. इसी तरह देखें तो राज्य में विदेशी पर्यटकों की संख्या में 1000 गुणा से

अधिक की बढ़ोत्तरी हुआ है. साल 2011 में राज्य में 1,45,80,387 देसी पर्यटक आये. वहीं विदेशी पर्यटकों के आने की संख्या 87,521 रही. साल 2017 में राज्य में 3,37,23,185 देसी और 1,70,987 विदेशी पर्यटक आये. साल 2018 में 3,54,08,822 देसी और 1,75,801 विदेशी पर्यटक आये. वहीं पर्यटन विभाग के आंकड़ों के अनुसार स्थानीय पर्यटन से राज्य के करीब 75 हजार लोगों को रोजगार मिला है. यह आंकड़ा अविभाजित बिहार में शून्य थी.

इसे भी पढ़ें-रांची में वैक्सीनेशन शुरू होने को, स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता इस कारण से नहीं लगवा पाएंगे कोरोना का टीका

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: