न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

‘जातिवादी’ टिप्पणी के लिए जोशी को नोटिस, चुनाव आयोग ने 25 नवंबर तक मांगा जवाब

16

Jaipur: राजस्थान विधानसभा का चुनाव का संग्राम चरम पर है. वही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सीपी जोशी जातिवादी टिप्पणी पर घिरते नजर आ रहे हैं. प्रधानमंत्री मोदी और उमा भारती की जाति के सवाल पर टिप्पणी कर जहां जोशी बीजेपी के निशाने पर आये. वही अब चुनाव आयोग ने इस मामले में उन्हें नोटिस भेजा है.चुनाव आयोग ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस प्रत्याशी सीपी जोशी को आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में नोटिस जारी किया है.

कल तक मांगा जवाब

जोशी पर आरोप है कि उन्होंने अपनी एक सभा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा के कई नेताओं के खिलाफ ‘जातिवादी’ टिप्पणियां की हैं. मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने कहा, निर्वाचन अधिकारी ने जोशी को शुक्रवार को नोटिस जारी किया. उनसे रविवार सुबह 11 बजे तक जवाब देने को कहा गया है. उन्होंने कहा कि जोशी का जवाब मिलने के बाद ही इस मामले में आगे फैसला किया जाएगा.

जाति पर उठाये थे सवाल

दरअसल जोशी ने चुनावी सभा में जो बयान दिया, उसका वीडियो बृहस्पतिवार को सोशल मीडिया में वायरल हुआ है. ये वीडियो नाथद्वारा के पास सेमा गांव का है. नाथद्वारा से उम्मीदवार जोशी इसमें प्रधानमंत्री और भाजपा नेता उमा भारती की जाति का जिक्र करते हुए कह रहे हैं कि धर्म पर केवल ब्राह्मण ही बात कर सकते हैं.

ज्ञात हो कि जोशी के इस बयान से कांग्रेस की होती किरकिरी पर पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी खुद आगे आये थे. और उनके नसीहत के बाद जोशी ने अपने बयान के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगी. भाजपा ने इस मामले में उनकी शिकायत निर्वाचन आयोग से की थी.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड में वेतन और पेंशन भुगतान में कुल बजट का 22 फीसदी से अधिक हो रहा खर्च

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: