न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

धनबाद में ही नहीं, पूरे झारखंड में बिजली चरमरायी हुई है, 2022 तक देंगे निर्बाध बिजली: रघुवर दास

364

Dhanbad: सूबे के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने शुक्रवार को निरसा में एक आम सभा को संबोधित करते हुए  कहा कि बिजली संकट से अभी निजात नहीं मिल सकती है. हम झारखंड में  बिजली  से जुड़ी इंफ्रास्ट्रक्चर  को सुधारने का काम कर रहे हैं.  2022 में  बिजली संकट से झारखंडवासियों को  पूर्णत: निजात मिल जायेगी. रामगढ़ के हर घर में बिजली पहुंचाने का काम हमारी सरकार ने किया है. बिजली के आंख मिचौनी का खेल न सिर्फ धनबाद-बोकारो बल्कि पूरे झारखंड में जारी है. उक्त बातें सीएम रघुवर दास ने  सुशांतो सेनगुप्ता  के 17वें शहादत दिवस के मौके पर कही.

सीएम ने कहा कि 2018 के अंत तक हर घर में बिजली होगी. 70 साल की आजादी के बाद झारखंड में बिजली के इंफ्रास्ट्रक्चर पर काम अब हो रहा है. 118 के जगह महज 38  ग्रिड बने थे. अब तक की सरकारों के द्वारा 67 सालों से हमारी आधी आबादी बिजली से महरूम थी. अगर पुरानी सरकारों के द्वारा  देश के दूसरे शहरों के पावर प्लांट में कोयला भेजने के बजाय, यहां पावर प्लांट बनाया गया होता तो आज हम बिजली बेचने की स्थिति में होते. पुरानी सरकार की नीयत और नीति ठीक नहीं थी. बिजली के उत्पादन के लिए  पतरातू में 4000 मेगावाट का पावर प्लांट निर्माण  का काम शुरू हो गया है. अगले  तीन वर्षों में बिजली के मामले में झारखंड आत्मनिर्भर होगा और DVC से बिजली लेने की भविष्य में  आवश्यकता नहीं होगी. झारखंड का अपना इंफ्रास्ट्रक्चर होगा. लेकिन, उसके लिए  कम से कम 1 साल का इंतजार करना होगा. फिलहाल 80 ग्रिड पर काम चल रहा है.

इसे भी पढ़ें- रिम्स में आयुष्मान भारत के लाभुक मरीजों को निःशुल्क मिलेगा पेइंग वार्ड का लाभ

श्रद्धांजलि देने पहुंचे सीएम रघुवर दास

भाजपा महिला मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य सह पश्चिम बंगाल की प्रभारी अपर्णा सेन गुप्ता के दिवंगत पति सुशांतो सेन गुप्ता के 17वें  शहादत दिवस के मौके पर आयोजित श्रधांजलि सभा में हिस्सा लेने निरसा  के  रामकनाली स्थित  समाधि स्थल  पहुंचे थे. सुशांतो को श्रधांजलि देने के बाद आम सभा को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि पहले बिजली विभाग में ट्रांसफार्मर घोटाले होते थे. हमारी तीन साल की सरकार में एक भी घोटाला नहीं हुआ.

इसे भी पढ़ें- रांची स्मार्ट सिटी के लिए 500 करोड़ का इंटीग्रेटेड बजट निर्धारित

सुशांतो के सपने को  भाजपा सरकार कर रही है साकार

सीएम ने कहा कि शहीद सुशांतो सेन गुप्ता नीरसा की जनता  के लिए एक संघर्षशील व्यक्तित्व थे. ‘जल दो या जेल दो’ के नारे के साथ आंदोलन किया था. उनके सपने को हमारी सरकार साकार कर रही है. निरसा जलापूर्ति योजना के माध्यम से पिछड़ेपन से निकलने के लिए विकास जरूरी है. आप अपनी जमीन विकास के कार्यों के लिए सरकार को दें.  2013 भूमि अधिग्रहण एक्ट के अनुसार मुआवजा दिया जायेगा. विकास में सहभागी बनें.

इसे भी पढ़ें- बीजेपी सांसद रविंद्र राय ने जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी पर ठोका 10 करोड़ का मानहानि का दावा

झामुमो मासस और बंगाल सरकार पर बोला हमला

सीएम ने बंगाल सरकार पर भी हमला बोला और  कहा कि आने वाले समय मे बंगाल में भाजपा की सरकार होगी. झारखंड के राजधनवार और निरसा से कम्युनिस्ट पार्टी का पत्ता साफ करना है. 2022 तक नया झारखंड का रोड मैप कम्प्लीट है. बेरोजगारी 2022 तक झारखंड से खत्म होगी. वहीं  सुशांतो सेन गुप्ता के हत्यारों को सजा दिलाने के मांग पर सीएम ने कहा कि सीबीआई कोर्ट में मामला चल रहा है. कानून के हाथ बहुत लंबे होते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: