JharkhandLead NewsRanchi

59 लाख कार्डधारकों के लिए पेट्रोल पर सब्सिडी पाने की डगर नहीं आसान

Ranchi : राज्य सरकार इस महीने के आखिरी सप्ताह से पेट्रोल पर सब्सिडी देने की तैयारी में है. इसका शुभारंभ दुमका जिले से 26 जनवरी को सीएम के हाथों होने की उम्मीद है. राज्य के 59 लाख से अधिक कार्डधारकों को इसका लाभ दिये जाने की घोषणा की गयी है. प्रति लीटर 10 रुपये की सब्सिडी देने की घोषणा सरकार ने की है. हर माह 10 लीटर तक प्रति लीटर 25 रुपये की सब्सिडी डीबीटी के जरिये लाभुक के खाते में जानी है. जिन कार्डधारकों के पास दो पहिया गाड़ी (स्कूटी, मोटर साइकिल) है, उन्हें इसका लाभ मिलेगा. इसके लिए एप तैयार किया जा रहा है. पर सब्सिडी का लाभ ले पाना इतना भी सहज नहीं है.

Sanjeevani

पेट्रोल सब्सिडी योजना का लाभ पाने को आवेदकों को मोबाइल एप के जरिए ही आवेदन करना है. इसके अलावा जो शर्तें तय की गयी हैं, उससे लाभ ले पाना कितना आसान होगा, यह देखने वाली बात होगी.

MDLM

इसे भी पढ़ें:हेमंत सरकार ने सभी को निराश किया, अब रघुवर सरकार को याद कर रहे हैं लोगः नीलकंठ मुंडा

इन शर्तों पर खरा उतरना अनिवार्य

दुमका डीसी कार्यालय के स्तर से एक पत्र जारी किया गया है. इसमें पेट्रोल सब्सिडी योजना का लाभ पाने को जरूरी शर्तों के संबंध में जानकारी दी गयी है. मोबाइल एप के माध्यम से ही सब्सिडी पाने को आवेदन करना होगा. आवेदक को राज्य के NFSA (National food security act) या JSFSS (Jharkhand state food security scheme) का राशन कार्डधारी होना चाहिए. कार्ड में सभी सदस्यों का वेरिफाइड आधार संख्या होनी चाहिए. आवेदक के आधार से लिंक्ड बैंक खाता संख्या एवं मोबाइल नंबर अपडेट होना जरूरी है.

आवेदक के गाड़ी का रजिस्ट्रेशन आवेदक के ही नाम से होना चाहिए. उसका दो पहिया वाहन का रजिस्ट्रेशन भी झारखंड से ही निबंधित होना जरूरी होगा.

इसे भी पढ़ें:जेपीएससी मुख्य परीक्षा का टाइम टेबल जारी, कल से डाउनलोड करें एडमिट कार्ड

आवेदन करते समय आवेदक को अपना राशन कार्ड एवं आधार संख्या डालना होगा जिसके उपरांत उनके आधार सीडेड मोबाइल संख्या पर ओटीपी जायेगा. इसके वेरिफिकेशन के बाद आवेदक राशन कार्ड में अपना नाम सेलेक्ट करते हुए अपनी गाड़ी संख्या और ड्राइविंग लाइसेंस डालेंगे.

गाड़ी संख्या डीटीओ के लॉग इन में जायेगी जिसे डीटीओ के द्वारा ही वेरिफाई किया जायेगा. वेरिफाइ होने के पश्चात जिला आपूर्ति पदाधिकारी के लॉग इन में यह चला जायेगा.

इसे भी पढ़ें:पायलट ने उड़ान के बीच कहा मेरी शिफ्ट खत्म, अब आगे नहीं उड़ाउंगा विमान, जानें आगे क्या हुआ

अभी दुमका जिला प्रशासन ने सभी बीडीओ को आदेश दिया है कि वे अपने अपने ब्लॉक से कम से कम 1000-1000 आवेदकों का निर्धारित मोबाइल एप के जरिये 18 जनवरी तक निर्धारित प्रपत्र में आवेदन करायें. पंजीकरण होने के बाद लाभुक एप के जरिये सब्सिडी के लिए दावा करेगा. इस काम में प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी, पंचायत सचिव, जनसेवक की मदद ली जाये.

डीटीओ से कहा गया है कि वे प्रखंडवार सभी निबंधित दो पहिया वाहनों की सूची जिला आपूर्ति कार्यालय, दुमका को उपलब्ध करायेंगे. 19 जनवरी को एप डाउनलोड की स्थिति और योजना के क्रियान्वयन पर समीक्षा बैठक की जायेगी.

इसे भी पढ़ें:कोल्हान विवि की लेटलतीफी से यूजी 2021-24 बैच के विद्यार्थियों का बर्बाद हो सकता है साल

आवेदन प्रक्रिया नहीं आसान

मोबाइल एप पर आवेदन करना कार्डधारकों के लिए टेढ़ी खीर साबित होने की आशंका है. इसके अलावा लाभुक के पास डीएल (ड्राइविंग लाइसेंस) होने और गाड़ी का झारखंड से ही रजिस्ट्रेशन होने की शर्त लगायी है. राशन से आधार कार्ड के जुड़े होने की बात कही है. हकीकत यह है कि 59 लाख कार्डधारकों में से 50 फीसदी के राशन कार्ड से आधार कार्ड को फीड नहीं किया जा सका है.

इसके अलावा वन नेशन, वन कार्डधारकों के मामले में भी कैसे पेट्रोल सब्सिडी प्रोग्राम का उपयोग किया जा सकेगा, इस पर स्पष्टता नहीं है.

इसे भी पढ़ें:दारोगा लालजी यादव आत्महत्या मामले में क्रिमिनल याचिका दायर, सीबीआइ जांच की मांग

Related Articles

Back to top button