न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आयुष्मान भारत योजना में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी : मुख्यमंत्री

181

Ranchi : आयुष्मान भारत योजना, जो गरीब परिवारों (लाल और पीला राशन कार्डधारी) के लिए एक महत्वपूर्ण योजना है, इसे धरातल पर सही तरीके से उतारने को लेकर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बुधवार को झारखंड सचिवालय में समीक्षा बैठक की. बैठक में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सभी मेडिकल कॉलेजों के प्राचार्यों और सिविल सर्जनों को सख्त हिदायत दी है कि इस योजना में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी. मुख्यमंत्री का मानना है कि इस योजना का देश भर में शुरुआत झारखंड की धरती से हुई है, इसलिए झारखंड से अपेक्षा भी अधिक है.

इसे भी पढ़ें- रिम्स : आयुष्मान कार्डधारी ने डॉ. सीबी सहाय से लगायी इलाज की गुहार, तो डॉक्टर ने थमाया दलाल का नंबर,…

मरीजों के साथ व्यवहार में सुधार लाया जाये : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने लाभुक मरीजों को कोई परेशानी न हो, इस पर विशेष ध्यान देने की हिदायत के साथ मरीजों के प्रति व्यवहार में भी सुधार लाने की बात कही. मौके पर मुख्यमंत्री ने गोल्डेन कार्ड के वितरण, आरोग्य मित्रों का प्रशिक्षण और प्रधानमंत्री के पत्रों के वितरण की स्थिति की भी समीक्षा की.

इसे भी पढ़ें- NEWS WING IMPACT : आयुष्मान कार्डधारी से पैसे मांगने के मामले में रिम्स निदेशक बोले- हमसे गलती हुई,…

सरकारी स्कूलों की तरह सरकारी अस्पतालों को भी बंद करना पड़ेगाः स्वास्थ्य सचिव

बैठक के दौरान स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे ने उन जिलों के सिविल सर्जनों को फटकार लगायी, जहां अब तक कोई क्लेम नहीं हुआ है. इन जिलों में खूंटी, लोहरदगा और गोड्डा भी शामिल हैं. निधि खरे ने सभी मेडिकल कॉलेजों के प्राचार्यों और सिविल सर्जनों को इसके लिए मिशन मोड पर काम करने की बात कही. उन्होंने कहा कि अभी जैसी स्थिति बनी रही, तो सरकारी स्कूलों की तरह सरकारी अस्पतालों को भी बंद करना पड़ेगा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: