न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालयः रोजमर्रा का खर्च के लिए भी फंड नहीं, शिक्षक करेंगे प्रदर्शन  

1,591

Dhanbad: बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय (बीबीएमकेयू) के गठन को दो साल से अधिक का समय हो चला है. लेकिन अबतक विवि को एक बार भी बजटीय आवंटन नहीं मिला है. झारखंड सरकार ने बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय को इस वित्तीय वर्ष के लिए 352 करोड़ रुपये का बजट पास किया है.

लेकिन यह वित्तीय राशि भी अबतक विवि को नहीं मिली है. इससे बीबीएमकेयू की आर्थिक सेहत बिगड़ गयी है. यदि जल्द ही बजटीय आवंटन नहीं मिलता है तो विवि कर्मियों की जुलाई की सैलरी रुक जायेगी. विवि की ओर से राज्य सरकार को त्राहिमाम संदेश भेज दिया गया है.

इसे भी पढ़ेंः लंदन : आईपीएल फ्रेंचाइजी मालिकों ने टीमों की संख्या बढ़ाने पर मंथन किया

पांच करोड़ रुपये है प्रतिमाह है का खर्च

बीबीएमकेयू विवि का हर माह वेतन मद में साढ़े तीन करोड़ रुपये के साथ कुल खर्च पांच करोड़ का है. ऐसे में बिना बजटीय आवंटन के इस राशि का जुगाड़ करना विवि के लिए आसान नहीं है. विवि के पास फंड उपलब्ध नहीं होने से विवि व कॉलेजों में कार्यरत कांट्रैक्चुअल शिक्षकों को मानदेय का भुगतान नहीं हो पाया है.

इसकी वजह से वे कॉलेजों में बिना पैसे के पढ़ा रहे हैं. दूसरी ओर फंड नहीं आने से विवि में नये कांट्रैक्चुअल शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हो पा रही है. बीबीएमकेयू शिक्षक संघ ने राज्यपाल के समक्ष यह मामला उठाने का निर्णय लिया है. संघ अपने विभिन्न मांगों को लेकर आगामी 17 जुलाई को राजभवन पर प्रदर्शन करेगा.

इसे भी पढ़ेंः चंद्रयान-2 का काउंटडाउन शुरू, 15 जुलाई को तड़के दो बजकर 51 मिनट पर रॉकेट भरेगा उड़ान

SMILE

जुलाई माह के वेतन पर संकट

इधर, बीएमकेयू के कुलपति डॉ. अंजनी कुमार श्रीवास्तव ने न्यूज़ विंग को बताया है कि विवि के आंतरिक स्रोत से हुए सभी प्रकार की आय पिछले चार माह में खर्च हो चुकी है. यदि बजटीय आवंटन नहीं मिलता है तो बीबीएमकेयू प्रशासन अपने शिक्षकों और कर्मियों को जुलाई महीने का वेतन भुगतान करने की स्थिति में नहीं होगा. राज्य सरकार को विवि की वर्तमान वित्तीय स्थिति से अवगत करा दिया गया है.

क्या कहते हैं कुलपति

कुलपति डॉ. अंजनी कुमार श्रीवास्तव ने जानकारी दी कि पिछले वित्तीय वर्ष (2018-19) में बीबीएमकेयू का बजट विनोबा भावे विश्वविद्यालय के साथ आया था. पिछले सत्र में बीबीएमकेयू के सभी कर्मियों का वेतन विभावि ने जारी किया था. विभावि से भुगतान बंद होने के बाद से बीबीएमकेयू अपने आंतरिक स्रोत से कर्मियों का पेमेंट कर रहा था.

इसे भी पढ़ेंः मवेशी तस्करों के खिलाफ BSF का अभियान जारी, एक को लगी गोली, 13 गिरफ्तार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: