JharkhandRanchi

कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने को सचिवालय कर्मियों का 23 अप्रैल तक Self Lockdown

Ranchi. कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. सचिवालय तक इसने दस्तक दे दी है. इसकी लपेट में अब तक 12 ऐसे सचिवालय सेवा कर्मी हैं जो पूरे परिवार के साथ संक्रमित हो चुके हैं. इसके अलावे बड़ी संख्या में कई कर्मी कोरोना संक्रमित पाये गए हैं. ऐसे में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने को सचिवालय सेवा कर्मियों ने 19 से 23 अप्रैल तक स्वत: लॉकडाउन करने का फैसला लिया है. जरूरी सेवाओं में लगे कर्मियों को छोड़कर अन्य कर्मी 23 के बाद ही सेवा पर उपस्थित होंगे.

 

advt

क्या कहता है सचिवालय सेवा संघ ?

संघ के महासचिव पिकेश कुमार सिंह के मुताबिक 19 अप्रैल से लेकर 23 अप्रैल तक झारखंड सचिवालय सेवा संघ के सभी सदस्य सामूहिक अवकाश पर रहेंगे. कोरोना की चेन को तोड़ने के लिए यह आवश्यक है कि आपसी संपर्क में कमी लाई जाय. संघ के द्वारा सरकार से इस संबंध में मिनी लॉकडाउन की मांग की गई थी. पिछले कुछ दिनों में सचिवालय में 150 से अधिक लोगों के कोरोना संक्रमित होने की सूचना है. कुछ लोगों की मौत भी हो चुकी है और कुछ अस्पताल में भर्ती हैं. यहां तक कि कुछ लोग पूरे परिवार सहित भी संक्रमित हैं. ऐसी स्थिति में संघ के द्वारा अपने सदस्यों की सुरक्षा को देखते हुए इस सेल्फ लॉकडाउन का निर्णय लिया गया है. इस दौरान आवश्यक कार्यों में संलग्न पदाधिकारी अपना कार्य पूर्ववत करते रहेंगे. कार्यालय में अति आवश्यक कार्य होने पर सभी लोग टेलिफोन पर उपलब्ध रहेंगे और ऐसी स्थिति में बुलाए जाने पर उस कार्य को निष्पादित कर वापस घर आ जाएंगे.

 

1100 से अधिक कर्मियों पर है खतरा

सेवा संघ के मुताबिक 1100 से अधिक कर्मी सचिवालय में सेवा देते हैं. संक्रमण के खतरे को कम करने को लॉकडाउन एक प्रयास है. फिलहाल लगभग 50 कर्मी ऐसे हैं जो जरूरी स्वास्थ्य सेवाओं में लगे हुए हैं.

 

इसे भी पढ़ें : अपर जिला दंडाधिकारी ने किया इंटर स्टेट बॉर्डर पर कोरोना जांच कैंप का निरीक्षण

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: