न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बिहार में NDA में फूट! रालोसपा के दो विधायक जेडीयू में होंगे शामिल ?

अटकलों के बीच उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश कुमार पर साधा निशाना

35

Patna: रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा एक ओर जहां लगातार जेडीयू और नीतीश कुमार पर निशाना साध रहे हैं. वही इनसबके बीच रालोसपा के दो विधायकों के जेडीयू में शामिल होने की अटकलों ने राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है. केंद्रीय मंत्री एवं राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी (रालोसपा) प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने अपनी पार्टी के दोनों विधायकों के जदयू में शामिल होने की अटकलों को लेकर रविवार को जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा.

इसे भी पढ़ेःकुशवाहा का नीतीश पर पलटवारः पूछा उनकी डीएनए रिपोर्ट आयी या नहीं

पार्टी में मचे खींचतान की खबरों के बीच कुशवाहा आगामी लोकसभा चुनाव में बिहार में लोकसभा सीटों के एनडीए के घटक दलों के बीच बंटवारे को लेकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से बातचीत के लिए पटना से दिल्ली रवाना हुए.

नीतीश को नसीहत

रालोसपा विधायक सुधांशु शेखर के जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर से मुलाकात की खबर पर उपेंद्र कुशवाहा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ‘समेटिए नीतीश कुमारजी अपने लोगों को. केवल दहेज लेना-देना अपराध नहीं है बल्कि किसी पार्टी को डैमेज करने हेतु लोभ व प्रलोभन देना भी अपराध एवं घोर अनैतिक कुकृत्य है. ऐसे यह कोई नहीं मानेगा कि आपकी पार्टी में ऐसा कुकृत्य आपकी सहमति के बगैर हो रहा होगा.’

कुशवाहा ने एक और ट्वीट करके जदयू अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, ‘वैसे तो नीतीश कुमार जी, आपको तोड़-जोड़ में महारत हासिल है. बसपा, लोजपा, राजद, कांग्रेस और अब रालोसपा…! लेकिन बिहार व देश की जनता सब देख रही है. हम गरीबों, शोषितों, वंचितों, दलितों, पिछड़ों और गरीब सवर्णों के हक के लिए लड़ते रहेंगे. आप चाहे जितना प्रहार करें.’

इसे भी पढ़ेंःएनडीसी ने पूर्व सीएम बाबूलाल की सुरक्षा को कैसे खतरे में डाला, जिला प्रशासन की छवि हुई खराब

ज्ञात हो कि रालोसपा विधायक सुधांश शेखर के जदयू उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर के साथ मुलाकात करने पर उनके साथ-साथ कुशवाहा की पार्टी के दूसरे विधायक ललन पासवान के जदयू में शामिल होने की अटकलें लगायी जा रही हैं. उल्लेखनीय है कि 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में रालोसपा ने केवल दो सीटें जीती थीं. इसके अन्य विधायक ललन पासवान पहले से ही जहानाबाद से पार्टी के सांसद अरुण कुमार की अध्यक्षता वाले एक असंतुष्ट समूह में शामिल हो चुके हैं.

नीतीश-कुशवाहा में तीखी बयानबाजी

गौरतलब है कि रालोसपा प्रमुख कुशवाहा और नीतीश कुमार के बीच काफी समय से तीखी बयानबाजी हो रही है. कुशवाहा ने हाल ही में रालोसपा कार्यकर्ताओं पर पुलिस लाठीचार्ज की कड़ी निंदा की. इससे पहले उन्होंने आरोप लगाया कि नीतीश कुमार उन्हें नीच बोलते हैं. नीतीश कुमार पर उन्होंने मुजफ्फरपुर में आरोप लगाते हुए कहा कि, ‘नीतीश कुमारजी मुझे नीच कहते हैं. मैं इस मंच से बड़े भाई नीतीश कुमार से पूछना चाहता हूं कि उपेंद्र कुशवाहा इसलिए नीच है क्योंकि वह दलित, पिछड़ा और गरीब नौजवानों को उच्चतम न्यायालय में जज बनाना चाहता है.’

इसे भी पढ़ें: News Wing Breaking : बदल जायेगा राज्य का प्रशासनिक ढांंचा ! एचआर पॉलिसी, क्षेत्रीय प्रशासन, परिदान आयोग के गठन व निगरानी सेल की मजबूती की कवायद

वही मुजफ्फरपुर में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने बिहार के सीएम से सवाल किया कि, ‘आपको भले ही जरूरत हो या नहीं लेकिन प्रदेश की जनता आप से यह जानना चाहती है कि आपकी डीएनए की रिपोर्ट क्या है और वह आई या नहीं आई. आई तो क्या रिपोर्ट है?

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: