न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नीतीश के लिए ‘नो एंट्री’ का बोर्ड लगाना चाहते हैं तेजप्रताप, जेडीयू-बीजेपी ने की निंदा

जनता दिखायेगी 'नो एंट्री' का बोर्ड- सुशील मोदी

562

Patna: भाजपा और जडीयू ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद के बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव के बयान की निंदा की है जिसमें उन्होंने कहा था कि वह अपनी मां के घर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए ‘नो एंट्री’ का बोर्ड लगवाना चाहते हैं. बिहार के उपमुख्यमंत्री और भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने आरोप लगाया कि लालू परिवार में हर कोई आंतरिक पावर सेंटर बनने की लड़ाई जीतने के लिए बढ़-चढ़ कर बयानबाजी कर रहा है.

जनता लगायेगी ‘नो एंट्री’ बोर्ड- सुमो

सुशील ने ट्वीट कर आरोप लगाया कि पारिवारिक राजनीति की विरासत के जिन दो सपूतों को नीतीश कुमार के चेहरे पर विधानसभा में पहली बार इंट्री मिली, वे सारे लोक-लिहाज ताक पर रखकर अपने घर मुख्यमंत्री के लिए ‘नो इंट्री’ का बोर्ड लगवाना चाहते हैं. उन्होंने दावा किया कि अगले चुनाव में बिहार की जनता उन्हें नो इंट्री का बोर्ड दिखाने वाली है. सुशील कुमार मोदी ने आरोप लगाया कि लालू परिवार में हर कोई आंतरिक पावर सेंटर बनने की लड़ाई जीतने के लिए बढ़-चढ़ कर बयानबाजी कर रहा है.

दोनों भाईयों में अपशब्द कहने की होड़- केसी त्यागी

SMILE

तेजप्रताप के उक्त बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए जदयू के राष्ट्रीय महासचिव के सी त्यागी ने फोन पर बताया कि ऐसा लगता है कि दोनों भाइयों में यह साबित करने की होड मची हुई है कि कौन किससे अधिक अपशब्दों का इस्तेमाल कर सकते हैं. हमारी वंशवाद कर राजनीति के खिलाफ विचार सच साबित हो रही है. उन्होंने कहा कि नीतीश जी ने भ्रष्टाचार के खिलाफ अपने सिद्धांत के तहत महागठबंधन से नाता तोड़ा था और राजद के साथ नाता जोड़ना हमारे लिए अपमानजनक होगा. त्यागी ने यह भी कहा दोनों भाइयों को इसका भी एहसास होना चाहिए था कि राजनीतिक मतभेदों के बावजूद भारतीय परंपरा के अनुसार नीतीश कुमार ने तेज प्रताप की शादी में भाग लिया और लालू यादव के ऑपरेशन होने पर उन्हें फोन कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी हासिल की. उन्होंने कहा कि दोनों भाइयों को अपनी सीमाओं में रहना सीखने की जरूरत है .

बता दें कि तेजप्रताप का यह बयान उनके छोटे भाई और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के हाल में दिए गए उस बयान कि जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार की महागठबंधन में वापसी अब संभव नहीं है, के बाद का आया है. महागठबंधन में कांग्रेस भी शामिल है.
न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: