National

#NirbhayaCase में आरोपियों के वकील को मुहैया कराये गये हैं सभी दस्तावेज: प्रॉसिक्यूटर

New Delhi: दिल्ली पुलिस ने शनिवार को दिल्ली की एक अदालत को बताया कि तिहाड़ जेल के अधिकारियों ने 2012 के निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले में मौत की सजा पाये दोषियों के वकील द्वारा मांगे सभी संबंधित दस्तावेज मुहैया करा दिए हैं.

पुलिस की ओर पेश हुए पब्लिक प्रॉसिक्यूटर ने अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अजय कुमार जैन को बताया कि दोषी केवल ‘‘विलंब करने की तरकीब’’ अपना रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- तीन दिनों की रिमांड में गैंगस्टर सुजीत सिन्हा ने खोले कई राज

advt

क्या है आरोप

मामले में चार दोषियों में से तीन की ओर से पेश हुए वकील ने शुक्रवार को अदालत का रुख करते हुए आरोप लगाया कि तिहाड़ जेल के अधिकारी कुछ दस्तावेज नहीं दे रहे हैं और इसी वजह से उन्हें दया और सुधारात्मक याचिकाएं दायर करने में देरी हो रही है.

ए. पी. सिंह ने आरोप लगाया कि जेल अधिकारियों ने अभी वे दस्तावेज नहीं दिये हैं जो विनय कुमार शर्मा (26) के लिए दया याचिका और अक्षय कुमार सिंह (31) और पवन सिंह (25) के लिए सुधारात्मक याचिकाएं दायर करने के लिए आवश्यक हैं.

इसे भी पढ़ें- #LIC में निवेश पर बढ़ रहा जोखिम, पांच सालों में दोगुना हुआ एनपीए

क्या है मामला

सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में दो अन्य दोषियों विनय और मुकेश सिंह (32) की सुधारात्मक याचिकाएं खारिज कर दी थीं. राष्ट्रपति ने इस महीने की शुरुआत में मुकेश की दया याचिका खारिज कर दी थी.

adv

याद दिला दें कि 16 दिसंबर, 2012 को निर्भया अपने दोस्त के साथ फिल्म देखकर घर लौट रही थी. दोनों पश्चिम दिल्ली के पास एक प्राइवेट बस में सवार हुए. बस में 6 लोग मौजूद थे.

जिन्होंने चलती बस में निर्भया से गैंगरेप किया और हैवानियत की हर हद को पार कर दिया. निर्भया ने अस्पताल में कई दिनों तक मौत से जंग लड़ी लेकिन 29 दिसंबर को वह जिंदगी की जंग हार गयी.

इस घटना में छह लोग शामिल थे. जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार किया था. इस मामले में एक आरोपी पहले ही नाबालिग होने की वजह से बरी हो चुका है. जबकि एक अन्य ने जेल में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. अब चार आरोपियों को एक फरवरी को फांसी दी जानी है.

इसे भी पढ़ें- पुलवामा में गणतंत्र दिवस से पहले जैश आतंकियों के साथ सुरक्षाबलों की मुठभेड़, तीन को सेना ने घेरा

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button