न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#NirbhayaCase: डेथ वारंट के बाद दोषी पवन पहुंचा SC, किया नाबालिग होने का दावा

624

NewDelhi: निर्भया गैंगरेप मामले में दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों को डेथ वारंट जारी किया है. डेथ वारंट जारी होने के बाद चारों दोषियों में पवन कुमार गुप्ता सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. उसने खुद के नाबालिग होने का दावा किया है.

इसे भी पढ़ें- #NirbhayaCase: फांसी में देरी पर उठते सवाल पर बोले केजरीवाल-निर्भया की मां को किया जा रहा गुमराह

Aqua Spa Salon 5/02/2020

क्या है याचिका में

पवन ने दिल्ली हाइकोर्ट के उस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है, जिसमें उसको नाबालिग मानने से इनकार कर दिया गया था. गौरतलब है कि एडवोकेट ए. पी. सिंह के जरिये सुप्रीम कोर्ट में दाखिल अपील में पवन ने खुद के नाबालिग होने की दलील दी है.

निर्भया गैंगरेप मामले में दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों को डेथ वारंट जारी किया है. पहले इन्हें 22 जनवरी को फांसी दी जानी थी लेकिन अब तारिख को बढ़ा दिया गया है और अब इन्हें एक फरवरी को फांसी दी जायेगी. डेथ वारंट जारी होने के बाद इनमें से दोषी पवन कुमार गुप्ता ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर खुद को घटना के वक्त नाबालिग बताया है. पवन का कहना है कि उसे एक फरवरी को फांसी नहीं दी जाए क्योंकि वह उस वक्त नाबालिग था जब यह घटना घटी थी.

दोषी पवन ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर कहा है कि 16 दिसंबर 2012 को जब निर्भया के साथ गैंगरेप हुआ, उस समय वह नाबालिग था. साथ ही उसने कोर्ट से यह भी अफील की है कि तिहाड़ जेल प्रशासन को इस बारे में निर्देश जारी किया जाए, ताकि एक फरवरी को उसे फांसी न दी जाए.

इसे भी पढ़ें- IAS TRANSFER: प्रवीण टोप्पो को 4 विभाग, सुनील कुमार योजना वित्त सचिव, प्रशांत कुमार को ग्रामीण विकास पंचायती राज का जिम्मा

22 जनवरी नहीं एक फरवरी को होने है फांसी

उल्लेखनीय है कि निर्भया गैंगरेप मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने नयी तारीख की घोषणा की है. कोर्ट ने सभी चारों दोषियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी किया है. नये डेथ वारंट के अनुसार अब 22 जनवरी की जगह सभी दोषियों को एक फरवरी सुबह छह बजे फांसी की सजा दी जायेगी.

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सतीश कुमार अरोड़ा मामले के दोषी मुकेश कुमार सिंह की याचिका पर सुनवाई कर रहे थे, जिसमें फांसी की तारीख 22 जनवरी से टालने की मांग की गयी थी.

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

इससे पूर्व तिहाड़ जेल के अधिकारियों ने दिल्ली की अदालत से निर्भया मामले के चारों दोषियों के खिलाफ मौत की सजा पर फिर से डेथ वॉरंट जारी करने की मांग की थी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like