न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Nirbhaya_Case : सुप्रीम कोर्ट की जस्टिस भानुमति कोर्ट में बेहोश हो गयीं, सुनवाई अब 20  फरवरी को

सूत्रों के अनुसार जस्टिस भानुमति चेंबर में भी कुछ सेकेंड के लिए बेहोश हुई. कहा गया कि उनको बुखार भी है उनका रक्तचाप भी बढ़ा हुआ था. अब मामले की अगली सुनवाई 20 फरवरी को होगी.

54

NewDelhi : निर्भया मामले में दोषियों को अलग-अलग फांसी पर चढ़ाये जाने की मांग करने वाली केंद्र सरकार की याचिका पर सुनवाई के क्रम में सुप्रीम कोर्ट की जस्टिस भानुमति को बेहोश हो गयीं. खबर है कि इस मामले में फैसला लिखवाने से पहले जस्टिस भानुमति को चक्कर आने लगे. और वे बेहोश हो गयीं.

जब तक लोग समझते और महिला स्टाफ उन्हें संभालती, तब तक वे होश में आ गयी. लगभग 20-30 सेकेंड बाद जस्टिस भानुमति होश में आ गयी. उन्हें वहां डायस पर बैठे अन्य न्यायाधीशों तथा सुप्रीम कोर्ट के कर्मियों ने चैंबर में पहुंचाया.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें :  #Supreme_Court ने उमर अब्दुल्ला की हिरासत पर जम्मू-कश्मीर प्रशासन को नोटिस भेजा, 2 मार्च तक मांगा जवाब

उन्हें व्हील चेयर पर ले जा गया

उन्हें व्हील चेयर पर ले जा गया. सूत्रों के अनुसार जस्टिस भानुमति चेंबर में भी कुछ सेकेंड के लिए बेहोश हुई. कहा गया कि उनको बुखार भी है उनका रक्तचाप भी बढ़ा हुआ था. अब मामले की अगली सुनवाई 20 फरवरी को होगी.

इसे भी पढ़ें : #Delhi : अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री मोदी को शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया

विनय कुमार शर्मा  की याचिका खारिज  

 इससे पहले निर्भया गैंगरेप-हत्या मामले के दोषी विनय कुमार शर्मा को सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा था. सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रपति द्वारा दया याचिका खारिज करने के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका को खारिज कर दिया था. जस्टिस आर बानुमति, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस ए एस बोपन्ना की बेंच ने यह फैसला सुनाया था.

पीठ ने कहा था कि हमने सारी फाइलें देखकर ही विचार किया है. यह दलीलें खारिज की जाती हैं कि राष्ट्रपति ने सारे दस्तावेज नहीं देखे. यह भी खारिज किया जाता है कि उप-राज्यपाल ने फाइल पर साइन नहीं किये थे.

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

इसे भी पढ़ें : #Turkish_President एर्दोआन ने पाक संसद में कश्मीर का मुद्दा उठाया, कहा, हम पाकिस्तान के रुख का समर्थन करेंगे

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like