न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांची नगर निगम लगायेगा तीन पेट्रोल पंप

36

Nitesh Ojha

  • एक पंप के लिए हो चुका है स्थान का चयन  
  • पंप लगाने से होगी 20 लाख रुपये तक की बचत
  • फॉगिंग के नाम पर होता रहा है तेल में घोटाला

Ranchi:  रांची नगर निगम अब अपना खुद का पेट्रोल पंप लगाने जा रहा है. यह पंप शहर के तीन स्थानों पर लगाये जायेंगे. इसके लिए अपर नगर आयुक्त गिरिजा शंकर प्रसाद ने सिटी मैनेजरों को पंप लगाने के लिए स्थान चयनित करने का आदेश दियाहै. जानकारी के मुताबिक एक पेट्रोल पंप बिरसा मुंडा पार्क के पास स्थित निगम की खाली जमीन पर बनेगा. इस स्थान पर अभी रामगढ़ जाने वाली ट्रैकर गाड़ियां खड़ी रहती हैं. वहीं दो अन्य स्थानों का चयनित किया जा रहा है. ऐसा होने पर निगम की गाड़ियों मेंलगने वाली तेल में एक बड़ी राशि,  तेल में हो रहे भ्रष्टाचार सहित तेल भरवाने के लिए कडरू पेट्रोल पंप आने-जाने में लगने वाली समय की भी बचत होगी.

 112 गाड़ियों में आता है 75 लाख रूपये तक का खर्च

निगम के एकाउंटस शाखा के मुताबिक निगम के पास करीब 112 गाड़ियां है. इसमें 91 ट्रैक्टर और 21 टाटा एस गाड़ियां शामिल है. इन गाड़ियों में तेल भराने की एवज में निगम को प्रतिमाह करीब 70 से 75 लाख रूपये तक का खर्च आता है. इन तेलों में डीज़ल, पेट्रोल, ल्यूब्रिकेंट आदि शामिल हैं. 

silk_park

 लगता रहा है तेल चोरी का आरोप

फॉगिंग के नाम पर पहले भी तेल चोरी का आरोप निगम के कर्मचारियों पर लगता रहा है. निगम बोर्ड की बैठक में कई पार्षदों ने इसे लेकर हंगामा भी किया था. गत जून माह में तत्कालीन सहायक कार्यपालक पदाधिकारी रामकृष्ण कुमार ने फांगिग के नाम पर डीजल चोरी की एक बड़ी घटना का खुलासा किया था. जांच में पता चला था कि फॉगिंग वाहन के चालक निगम से 80 लीटर डीजल का कूपन उठाते तो हैं, लेकिन पेट्रोल पंप से कम तेल भरवा कर बाकी का पैसा खुद रख लेते है. इसके बाद से ही निगम अपना पेट्रोल पंप चलाने की तैयारी में जुट गया था.

 खर्च में कमी आने साथ समय की होगी बचत  : गिरिजा शंकर प्रसाद

पेट्रोल पंप खोलेजाने की बात करते हुए अपर नगर आयुक्त गिरिजा शंकर प्रसाद ने कहा कि वर्तमान मेंनिगम की गाड़ियां को तेल भराने के लिए कडरू पेट्रोल पंप तक आना-जाना पड़ता है.निगम कार्यालय से यह दूरी काफी अधिक है, वहां जाने-आने में ही गाड़ियों का दो से तीन लीटर तेल जल जाता है. दूसरी ओर एकपंप से तेल भराने निगम को लाखों रूपये तक खर्च आता है. इसे देख कर ही निगम एरियावाइज तीन पेट्रोल पंप लगाने पर विचार कर रहा है. इसमें एक पंप बिरसा मुंड़ा जेल केपास खाली पड़े निगम की जमीन पर बनाया जाएगा. वर्तमान में यहां टैकर स्टेंड बना हुआहै. बाकी दो पंप के लिए सिटी मैनेजरों को स्थान चयनित करने का जिम्मा दिया गया है.उन्होंने बताया कि निगम की इस योजना को आने से कडरू तक आने-जाने में लगने वाले समयमें बचत होगी. एक ही पेट्रोल पंप से तेल भराने में आ रहे खर्च में कमी आयेगी. वहीं,सीमित मात्रा में ही सही पर तेल में चल रहे भ्रष्टाचार पर काबू पाया जा सकेगा.

इसे भी पढ़ेंः बीएसएल में नौकरी के नाम पर ठगी का आरोपी राजेंद्र महतो समेत तीन गिरफ्तार

इसे भी पढ़ेंः देश भर में खोले जायेंगे 65,000 नये पेट्रोल पंप, सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों ने विज्ञापन निकाले

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: