Crime NewsJharkhandLead NewsRanchi

गैंगस्टर सुजीत सिन्हा गिरोह पर NIA का शिकंजा, प्रदीप गंझू की रिमांड अवधि बढ़ाई गई

सुजीत का करीबी माना जाता है प्रदीप, 22 तक एनआइए करेगी पूछताछ

Ranchi: एनआइए ने तेतरियाखाड़ कोलियरी में आगजनी के मामले में प्रदीप गंझू की रिमांड अवधि बढ़ा दी है. एनआईए प्रदीप से अब 22 अप्रैल तक पूछताछ करेगी. एनआईए ने 14 से 19 अप्रैल तक के लिये सुजीत सिन्हा गिरोह के पांच अपराधियों को रिमांड पर लिया था. चार अपराधियों को छोड़ एनआईए ने प्रदीप की रिमांड अवधि तीन दिनों के लिए बढ़ा दी है.

सुजीत का खास है प्रदीप

जमशेदपुर के घाघीडीह जेल में उम्र कैद की सजा काट रहे गैंगस्टर सुजीत सिन्हा जेल से ही अपनी सल्तनत चला रहा है. प्रदीप उसका बेहद करीबी माना जाता है. यही वजह है कि प्रदीप की रिमांड अवधि बढ़ा दी गई है. दूसरी तरफ अब सुजीत का पूरा गिरोह एनआईए के रडार पर है. झारखंड के लातेहार के तेतरियाखाड़ कोलियरी में आगजनी के मामले में एनआईए ने सुजीत सिन्हा गिरोह पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है.

advt

एनआईए ने जिन पांच अपराधियों को रिमांड पर लिया था , उसमें पोस्टर साट कर तेतरियाखाड़ कोलियरी में आगजनी की जिम्मेवारी लेने वाला प्रदीप गंझू, बाबूलाल तुरी, संतोष कुमार, प्रभात कुमार और प्रीतम कुमार चीकू शामिल हैं. एनआईए ने प्रदीप को छोड़कर बाकी चार को वापस जेल भेज दिया है अब प्रदीप से एनआईए 2 दिन तक और पूछताछ करेगी.

गौरतलब है कि झारखंड के लातेहार के बालूमाथ थाना क्षेत्र स्थित तेतरियाखाड़ में आगजनी मामले में एनआईए ब्रांच रांची ने कांड संख्या आरसी 01/ 2021 दर्ज किया है. इस मामले की जांच एनआईए के डीएसपी रैंक अधिकारी कर रहे हैं. एनआइए ने आईपीसी धारा 147, 148, 149, 353, 504, 506, 307, 427, 335, 386, 387, 120 बी 121ए और 216 शामिल है. आर्म्स एक्ट धारा 25(1)(b), 26, 27 और 35. विस्फोटक अधिनियम की धारा 3 और 4, यूएपीए धारा 10, 13, 16(1), 20 और 23 इसके अलावा सीएलए धारा 17 के तहत मामला दर्ज किया है.

तेतरियाखाड़ कोलियरी में आगजनी और गोलीबारी के मामले में एनआईए ने अपराधी सुजीत सिन्हा समेत सात अपराधियों की भूमिका की जांच कर रही है. एनआईए जिन अपराधियों की भूमिका की जांच कर रही, उनमें सुजीत सिन्हा, प्रदीप गंझू, अमन साव, सकेंद्रे गंझू, बिहारी गंझू, प्रमोद गंझू, संतोष गंझू समेत कई अज्ञात शामिल हैं.

18 दिसंबर 2020 की देर शाम लातेहार जिले के बालूमाथ थाना क्षेत्र में अपराधियों ने जमकर उत्पात मचाया था. हथियारबंद अपराधियों ने सीसीएल की तेतरियाखाड़ कोलियरी में चार ट्रक और एक बाइक को आग के हवाले कर दिया था. इसके अलावा अपराधियों द्वारा की गई गोलीबारी में एक व्यक्ति घायल हो गया था. इस घटना की जिम्मेवारी अपराधी सुजीत सिन्हा गिरोह के प्रदीप गंझू ने लिया था। प्रदीप गंझू ने आदेश जारी करते हुए कहा था कि तेतरियाखाड़ कोल परियोजना के एक नंबर कांटा घर में हुई घटना की जिम्मेदारी लेता हूं.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: