1st LeadCrime NewsJharkhandRanchi

नरेश सिंह भोक्ता हत्या मामले की जांच में जुटी NIA, पुलिस मुखबिरी के आरोप में चार वर्ष पूर्व नक्सलियों ने कर दी थी हत्या

Ranchi : बिहार के औरंगाबाद जिले के मदनपुर थाना पुलिस ने सहियार गांव निवासी नरेश सिंह भोक्ता की हत्या के मामले की जांच में NIA की टीम जुट गई है. मामले में NIA ने 24 जून को मृतक के पत्नी के बयान पर केस दर्ज किया है, जिसमें 33 नामजद आरोपी हैं.

सभी आरोपी माओवादी संगठन से जुड़े हैं. बता दें कि नरेश सिंह भोक्ता की हत्या दो नवंबर 2018 को पुलिस मुखबिरी के आरोप में कर दी गई थी. नरेश सिंह भोक्ता पूर्व में नक्सली संगठन से जुड़ा था. घटना के बाद पुलिस शव के पास से एके-47 बरामद किया था. मामले में मदनपुर थाना में 3 नवंबर 2018 को 28 नामजद और अज्ञात नक्सलियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी थी.

 

कई नक्सली झारखंड में भी रहे हैं सक्रिय

ram janam hospital
Catalyst IAS

नामजद आरोपी में शामिल प्रमोद मिश्रा उर्फ सोहन उर्फ बिहारी नेपाल समेत बिहार और झारखंड में कई उग्रवादी घटनाओं को अंजाम दिया है. जानकारी के अनुसार धनबाद पुलिस की मदद से बोकारो पुलिस ने 11 मई 2008 को कथित कुख्यात इनामी नक्सली प्रमोद मिश्रा को धनबाद थाना क्षेत्र के बिनोद नगर स्थित त्रिमूर्ति मंदिर के समीप जयराम मिश्रा के घर से गिरफ्तार किया था. दर्ज प्राथमिकी में कई नक्सली झारखंड के बताये जा रहे हैं, जो नरेश सिंह भोक्ता हत्याकांड में शामिल था.

 

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : COMMON WEALTH GAMES 2022: लॉन बॉल में भारतीय टीम में झारखंड के 5 खिलाड़ी चयनित

Related Articles

Back to top button