Crime NewsJharkhandRanchi

एनएच-33 प्रोजेक्ट : सीबीआई ने रांची एक्सप्रेस-वे लिमिटेड, मधुकॉन ग्रुप ऑफ कंपनीज पर दर्ज किया केस

विज्ञापन

Ranchi : सीबीआई ने रांची एक्सप्रेस-वे लिमिटेड कंपनी के खिलाफ केस दर्ज किया है. सीबीआई ने रांची-जमशेदपुर NH-33 प्रोजेक्ट धोखाधड़ी मामले में रांची एक्सप्रेस-वे लिमिटेड, मधुकॉन ग्रुप ऑफ कंपनीज और केनरा बैंक के नेतृत्व वाले बैकों के कंसोर्टियम के अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

264 करोड़ रुपये के अवैध डायवर्सन की जांच कर रही है सीबीआई

मिली जानकारी के अनुसार रांची-जमशेदपुर एनएच-33 के निर्माण और आवंटित फंड में से 264 करोड़ रुपये के अवैध डायवर्सन की जांच सीबीआई कर रही है. जांच के दायरे में रांची एक्सप्रेस-वे लिमिटेड, मधुकॉन प्रोजेक्ट लिमिटेड, मधुकॉन इन्फ्रा लिमिटेड, मधुकॉन टोल हाइवेज लिमिटेड के साथ केनरा बैंक समेत 14 बैंकों को रखा गया है.

advt

बड़ी रकम के बारे में मामला साफ नहीं

केंद्रीय मंत्रालय के सीरियस फ्रॉड इन्वेस्टिगेशन ऑफिस ने बैंक और रांची एक्सप्रेस-वे कंपनी के लेनदेन की जांच की थी. इसमें स्पष्ट हुआ कि कंपनी ने रांची-जमशेदपुर रोड के लिए केनरा बैंक और अन्य 14 बैंकों से पैसों का लेनदेन किया, परंतु एक बड़ी रकम के बारे में मामले में यह साफ नहीं हुआ कि यह रकम इसी प्रोजेक्ट में लगी या दूसरे खातों में डाली गयी.

रांची से महुलिया तक बननी है 163.5 किमी सड़क

रांची-जमशेदपुर सड़क एक महत्वपूर्ण सड़क है. रांची से महुलिया तक 163.5 किमी सड़क बननी है. यह कई लोगों से जुड़ा जनहित का मामला है. वर्ष 2011 में काम शुरू हुआ, 912 दिनों में यह सड़क बन जानी थी, लेकिन  अभी भी इसका आधा काम हुआ है.

इसे भी पढ़ें- कोचांग में पांच लड़कियों के साथ हुए दुष्कर्म मामले में फादर अल्फांसो को हाई कोर्ट से मिली जमानत

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close