1st LeadCrime NewsJharkhandLead NewsRanchi

पिता-पुत्र हत्याकांडः दोहरे हत्याकांड मामले में होने वाला दामाद ही निकला आरोपी, खाने में बेहोशी की दवा मिलाकर की हत्या

Ranchi : रांची के चुटिया थाना क्षेत्र स्थित शिवालिक होटल में दोहरे हत्याकांड मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिराफ्तार कर लिया है. आरोपी का नाम चंदन प्रसाद है जो की मृतक का होने वाला दामाद बताया जा रहा है.

हालांकि न्यूज़ विंग ने कल देर रात ही इस मामले को खुलासा करते हुए बता दिया था कि उसके दामाद ने ही खाने में बेहोशी की दवा मिलाकर बाप और बेटे को बेहोश कर दिया था. उसके बाद चंदन ने गला रेत कर दोनो की हत्या कर दी. रांची पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्य आरोपी चंदन प्रसाद को गिरफ्तार कर लिया. जानकारी के अनुसार मुख्य आरोपी चंदन के रूम से चाकू और खून से लथपथ कपड़ा मिला है.

 

चंदन नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों से करता था ठगी

चुटिया के शिवालिक होटल में पिता और पुत्र की हत्या के बाद होने वाले दामाद चंदन से पुलिस पूछताछ कर रही है. मृतक के परिवार वालों ने चंदन पर आरोप लगाया था कि नौकरी दिलाने के नाम पर पैसों की ठगी करता है. होने वाले ससुर नागेश्वर मेहता से एक लाख साठ हजार की ठगी की थी. वहीं नागेश्वर मेहता के रिश्तेदार अशोक मेहता से रिम्स में नौकरी दिलाने के नाम पर 60 हजार की ठगी की थी.

 

 

 

रिम्स में नौकरी दिलाने के नाम पर करता था ठगी

मृतक नागेश्वर मेहता के परिजनों ने आरोप लगाया है कि होने वाले दमाद चंदन एक लड़की के साथ रिम्स में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करता था. रिम्स में स्वीपर और सुपरवाइजर के पद पर लोगों की तैनाती कराने के लिए हजारों की ठगी कर रहा था.

मृतक नागेश्वर मेहता के परिवार वालों से अब तक तीन लोगों से ठगी कर चुका था. मृतक नागेश्वर मेहता के परिवार वालों ने आरोप लगाया है कि होने वाले दामाद चंदन के आधार कार्ड भी गलत है. मृतक के परिवार वालों ने बताया कि होने वाले दामाद चंदन ने ही नागेश्वर मेहता और अभिषेक मेहता को खाने में बेहोशी दवा मिलाकर हत्या कर दी थी. फिलहाल इस पूरे मामले को लेकर पुलिस गिरफ्तार पूछताछ कर रही है.

 

आज पोस्टमार्टम होने के बाद परिजनों को सौंप दिया जाएगा शव

मृतक नागेश्वर मेहता और अभिषेक मेहता की आज पोस्टमार्टम रिम्स में की जाएगी. पोस्टमार्टम करने के बाद शव को मृतकों के परिजनों को आज सौंप दिया जाएगा. इस घटना से परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है.

मृतक के परिजनों ने कहा कि नागेश्वर मेहता ही इकलौता घर में कमाने वाले इंसान थे और उनके चले जाने के बाद घर की आर्थिक हालात और भी खराब हो जाएंगे.

 

इसे भी पढ़ें : राहुल सिन्हा ने रांची के नये उपायुक्त के तौर पर पदभार किया ग्रहण, कहा- गवर्नेंस इश्यू में किसी तरह की कोताही न हो

Related Articles

Back to top button