न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#NewTrafficRule : भाजपा सांसद रामकृपाल के बेटे को एक हजार फाइन, केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे को छोड़ा, तो दारोगा सस्पेंड

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे के वाहन  की जांच नहीं करने के मामले में एक दारोगा और एक सिपाही को सस्पेंड

74

Patna :  पाटलिपुत्र संसदीय सीट से भाजपा सांसद रामकृपाल यादव के बेटे का,  यातायात नियम तोड़ने पर एक हजार रुपये का चालान काटा गया. जान लें कि नया ट्रैफिक रूल बनने के बाद पूरे राज्य समेत राजधानी पटना में सघन वाहन जांच अभियान चलाया जा रहा है. किसी भी कथित वीआईपी को भी नहीं छोड़ा जा रहा है. इस अभियान के तहत  लोगों को भारी जुर्माना लगाया जा रहा है. इसी क्रम में रामकृपाल यादव के बेटे द्वारा ट्रैफिक नियम तोड़ने पर एक हजार रुपये का चालान काटा गया.

इसे भी पढ़ेंः#JPSC की कार्यशैली पर लगातार प्रतिक्रिया दे रहे हैं छात्र, पढ़ें-क्या कहा छात्रों ने…. (छात्रों की प्रतिक्रिया का अपडेट हर घंटे)

Aqua Spa Salon 5/02/2020

दारोगा देवपाल पासवान और सिपाही दिलीप चंद्र  सस्पेंड

खबरों के अनुसार राजधानी पटना में ही वाहन जांच अभियान के दौरान केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे के वाहन की जांच नहीं करने के मामले में एक दारोगा और एक सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया है. जानकारी के अनुसार वाहन जांच अभियान के क्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य के बेटे की गाड़ी को पुलिसकर्मियों ने चेक नहीं किया. जिसे गंभीरता से लेते हुए कमिश्नर आनंद किशोर ने दोषी पुलिसकर्मियों पर तुरंत कार्रवाई का आदेश दिया. जिसके बाद दारोगा देवपाल पासवान और सिपाही दिलीप चंद्र को तत्काल सस्पेंड कर दिया गया.

जानकारी के अनुसार पटना में कमिश्नर आनंद किशोर की अगुवाई में रविवार को सड़क पर वाहन जांच अभियान चल रहा है. इस दौरान केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे की गाड़ी जांच के लिए रोकी गयी. गाड़ी में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित, बहू और पत्नी थे. सांसद लिखे वाहन को रोके जाने के बाद भी मौके पर मौजूद किसी भी अधिकारी या पुलिसवाले में जांच करने की हिम्मत नहीं पाये. मामले को गंभीरता से लेते हुए कमिश्वर आनंद किशोर ने दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करते हुए उन्हें निलंबित करने का आदेश दिया.

इसे भी पढ़ेंःपांच जिले की पुलिस के लिए अमन श्रीवास्तव को पकड़ना बनी चुनौती, खुफिया तंत्र फेल या फिर पुलिस है लापरवाह

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like