DhanbadJharkhandSports

NewsWingImpact: धनबाद में सब्जी बेच रही नेशनल आर्चरी खिलाड़ी को उपायुक्त ने दिया 20 हजार का चेक

Dhanbad:  नेशनल खेल चुकी आर्चरी खिलाड़ी द्वारा सब्जी बेचने की खबर को न्यूज विंग ने सोमवार को प्रमुखता से दिखाया था.

खबर को संज्ञान में लेते हुए धनबाद उपायुक्त अमित कुमार ने सोनू के परिवार से दूरभाष पर सम्पर्क कर मंगलवार को कार्यालय बुलाया.

इसके लिए उपायुक्त ने गाड़ी की व्यवस्था भी की ताकि सोनू अपने परिवार के साथ धनबाद उपायुक्त कार्यालय पहुंच सके.

मंगलवार को धनबाद पहुंचने के बाद सोनू को उपायुक्त ने सम्मान के तौर पर 20 हजार का चेक दिया ओर साथ ही हर सम्भव मदद करने का अश्वासन भी दिया.

इसे भी पढ़ें – Corona: धनबाद से 8 और गिरिडीह से 1 नये कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले, झारखंड का आंकड़ा हुआ 685

ये है पूरा मामला

बता दें कि धनबाद झरिया के जोड़ापोखर थाना अंतर्गत जियलगोरा के रहने वाले इदरीश मियां की पुत्री सोनू खातून का सपना था कि तीरंदाजी में भाग लेकर आर्चरी चेम्पियन बन अपने देश के साथ-साथ अपने परिवार का भी नाम रौशन करूं लेकिन सोनू का यह सपना धनुष टूटने के बाद अधूरा रह गया. था.

सोनू वर्ष 2011 में मैट्रिक की परीक्षा देते हुए तीरंदाजी का अभ्यास कर रही थी. इसी क्रम में 56 वां राष्ट्रीय विद्यालय तीरंदाजी प्रतियोगिता में सोनू का चयन हुआ. ये प्रतियोगिता पुणे में हुई थी जिसमे सोनू ने कांस्य पदक जीता था.

इसके बाद सोनू ने 2015-16 में राज्य स्तर की कई प्रतियोगिताओं में भाग लेकर कई पदक अपने नाम किये.

सोनू के पिता मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करते थे. आय कम होने के कारण घर की माली स्थिति खराब थी.

सोनू ने दसवीं के बाद पैसे की कमी के कारण अपनी पढ़ाई छोड़ दी और परिवार चलाने के लिए आस-पडोस के घरों में जाकर चौका बर्तन करने लगी क्योंकि सिर्फ पिता की कमाई से घर चलाना काफी मुश्किल हो रहा था.

लेकिन इस बीच सोनू को किस्मत ने फिर धोखा दे दिया. सोनू से इस कोरोना वायरस ने चौका बर्तन करने का काम भी छीन लिया जिसके कारण घर की परेशानियां ओर बढ़ गयीं.

सोनू अपने घर मे बैठे बैठे यह सोच रही थी कि अब क्या होगा, इस कोरोना वायरस में घर कैसे चलेगा, पिताजी का काम भी बंद है, चौका बर्तन का काम भी छीन गया है ऐसे हालात में क्या करूं.

इसे भी पढ़ें –मनोज तिवारी दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाये गये, आदेश गुप्ता नये अध्यक्ष नियुक्त

घर चलाने के लिए बेचने लगी सब्जी

इस कोरोना काल मे सोनू ने सब्जी बेचने का काम शुरू किया. वो जरा भी नही सोची की वो एक नेशनल खेलाड़ी है. सोनू के दिमाग मे बस इतना था कि घर परिवार को दो वक्त की रोटी मिल सके.

मंगलवार को उपायुक्त से 20 हजार का चेक लेते हुए आर्चरी खेलाड़ी सोनू रो पड़ी. नम आंखों से सोनू ने उपायुक्त से कहा- महोदय हमे पैसे नही धनुष चाहिए ताकि मै आर्चरी खेल कर अपने परिवार के साथ-साथ अपने देश का नाम रोशन करना कर सकूं.

सोनू की इस बात पर उपायुक्त ने उन्हें आश्वासन दिया है.

साथ ही सोनू ओर सोनू की मां ने इस सम्मान को लेकर उपायुक्त का दिल से आभार प्रकट किया.

सोनू ने न्यूज विंग को भी धन्यबाद दिया और कहा कि अगर इसी तरह मीडिया का सहयोग मिला तो वो दिन दूर नही होगा जब आर्चरी में नेशनल खेल गोल्ड जीत कर अपने देश का नाम रोशन करूंगी.

वही सोनू की मां शकीला खातून ने भी न्यूज विंग को धन्यवाद दिया.

इसे भी पढ़ें – धनबाद: PMCH में विक्षिप्त लड़की के साथ रेप मामले में अज्ञात वर्दी वाले पर FIR 

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close