JharkhandMain SliderRanchi

न्यूजविंग इंपैक्टः महिला अफसर को परेशान करने का मामला, हजारीबाग DC से मांगी गई जानकारी 

विज्ञापन

Ranchi: न्यूज विंग की खबर का असर देखने को मिला है. राज्य प्रशासनिक सेवा की अफसर दीपमाला द्वारा हजारीबाग डीसी पर गंभीर आरोप लगाने की खबर न्यूज विंग में चलने के बाद सरकार एक्शन में आ गयी है. सरकार ने कार्मिक सचिव को पूरे मामले की जानकारी उपलब्ध कराने को कहा है.

इसे भी पढ़ेंःमहिला डिप्टी कलेक्टर का खुला पत्र – मेंटली टॉर्चर कर मेंटली स्ट्रॉन्ग बनाने के लिये थैंक्यू सर, आपके तबादले पर हम लड्डू बांटेंगे

advt

सूत्रों के अनुसार, कार्मिक विभाग के अपर मुख्य सचिव केके खंडेलवाल ने डीसी हजारीबाग रवि शंकर शुक्ल से जवाब-तलब भी किया है. साथ ही मामले की पूरी जानकारी स्पष्ट करने को कहा है. वहीं राज्य सेवा की अफसर दीपमाला से भी पूरे प्रकरण की जानकारी मांगी गई है. दीपमाला को पूरे मामले की जानकारी 24 घंटे के अंदर देने को कहा गया है.

क्या है मामला

न्यूज विंग में छपी खबर

राज्य सेवा की अधिकारी दीपमाला ने डिप्टी कलेक्टर नाम के वाट्सएप ग्रूप पर आठ पन्ने का एक पत्र जारी किया है. जिसमें कहा है कि हजारीबाग के डीसी महिला अफसरों को प्रताड़ित करते हैं. दीपमाला हजारीबाग में कार्यपालक दंडाधिकारी के पद पर पदस्थापित हैं. पत्र में उन्होंने पिछले एक साल की पीड़ा की जानकारी विस्तार से दी है.

इसे भी पढ़ेंःबोकारो भवन निर्माण विभाग की स्थिति दयनीय, तीन अवर प्रमंडलों में मात्र एक सहायक अभियंता

adv

अंत में यह भी लिखा है कि थैंक्यू डीसी सर. हमको मेंटली इतना टॉर्चर करके मेंटली इतना स्ट्रॉंग बनाने के लिए. आपके ट्रांसफर पर हम लड्डू बांटेंगे. दीपमाला का यह पत्र अफसरों के बीच वायरल है. उन्होंने पत्र में यह भी लिखा है कि एक आईएएस और एक स्टेट सिविल सर्वेंट के बीच का रिश्ता सीनियर और एक जूनियर का होता है. जहां कॉपरेशन, अंडरस्टैंडिंग एंड एप्रोचेबिलिटी होती है. जहां हम अपने बॉस के पास कभी भी प्रॉब्लेम होने पर बिना हिचक के जा सकते हैं. डिस्कस कर सकते हैं. लेकिन डीसी सर इसके बिल्कुल उलट हैं. उन्हें तो महिला ऑफिसरों को बेईज्जत और परेशान करने में ही मजा आता है.

इसे भी पढ़ेंःजनसंख्या के हिसाब से झारखंड 162 देशों से आगे, 84 देशों से ज्यादा है राज्य का क्षेत्रफल

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close