JharkhandMain SliderRanchi

NEWS WING STING: 70-80 हजार रुपया दो, समाज कल्याण विभाग में #JOB लो

– SBC कंपनी ने शहर के विभिन्न प्लेसमेंट एजेंसी को दे रखा है ठेका, कंपनी ने काम Placement Agency को सौंपा

Rahul/Gaurav

Ranchi :  झारखंड सरकार के समाज कल्याण की नौकरियां सरेराह बिक रही हैं. बेचने वाले 70 से 80 हजार रुपये लेकर नौकरी देने की गारंटी दे रहे हैं. नौकरी लेने वालों को हिनू फन सिनेमा के पास बुलाया गया. सैकड़ों की संख्या में बेरोजगार हाथों में बायोडाटा लिए इंटरव्यू की टाइमिंग का इंतजार कर रहे हैं. जब इस बात की खबर न्यूज विंग को पता चली तो न्यूज विंग की टीम मौके पर पहुंची.

Chanakya IAS
Catalyst IAS
SIP abacus

The Royal’s
Sanjeevani
MDLM

हीडेन कैमरे में पूरे मामले की पड़ताल की गयी. इस दौरान प्लेसमेंट एजेंसी के लोगों को मामला रिकॉर्ड किये जाने का शक भी हुआ. छिपे कैमरे में प्लेसमेंट एजेंसी के लोगों ने इस बात को स्वीकारा कि SBC कंपनी के लिए हमलोग मानव संसाधन उपलब्ध करा रहे हैं. 80 हजार रुपये देने पर नौकरी सुनिश्चित करने की बात भी उन्होंने स्वीकारी.

इसे भी पढ़ें – #JPSC छठी सिविल सेवा का मामला : ढाई घंटे चली बहस, कोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित

क्या है मामला

मौके पर मौजूद युवाओं ने बताया कि एसबीसी की ओर से अखबार में विज्ञापन निकाला गया था. इस विज्ञापन में जिला कॉर्डिनेटर, जिला प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर, ब्लॉक कॉर्डिनेटर, ब्लॉक प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर आदि पदों के लिए आवेदन मांगे गये थे.

उम्मीदवारों को ऑनलाइन आवेदन करना था. जिसकी अंतिम तारीख 12 सितंबर तय हुई थी. आवेदन किये गये उम्मीदवारों को बायोडाटा के साथ आज (सोमवार को) आना था. जहां साक्षात्कार के बाद नियुक्ति दी जाती.

लेकिन SBC की इस बहाली प्रक्रिया में कई स्थानीय प्लेसमेंट एजेंसियों की मिली भगत है. ये प्लेसमेंट एजेंसियां बायोडाटा के साथ आये उम्मीदवारों के बीच जाकर 70 से 80 हजार रुपये देने पर नौकरी पुख्ता होने की बात कह रहे थे.

वहीं छात्रों ने बताया कि हमसब जिस नियुक्ति के लिए यहां पर आये हैं, उसके लिए सभी से सीधे तौर पर 70-80 हजार रूपये की मांग की गयी है.

इसे भी पढ़ें – #Dhullu तेरे कारण : व्यवसायी का आरोप-  ढुल्लू जहां देखते हैं खाली जमीन, उस पर बाउंड्री बना कर लेते हैं कब्जा

देखें स्टिंग का पूरा वीडियो

 

एक एजेंसी ने कहा – नहीं हो पायेगा इस बार, दूसरे ने दी गारंटी

न्यूज विंग ने जब आम बेरोजगार युवा बनकर प्लेसमेंट एजेंसियों ने बात की तो ITCT नाम की प्लेसमेंट एजेंसी के प्रतिनिधि इमरान ने बताया कि इस वैकेंसी में तो जगह नहीं मिल पायेगी. लेकिन आगे कोई संभावना बनती है, तो कुछ बात बन सकती है.

जबकि माइलस्टोन प्लेसमेंट एजेंसी के अहमद जसीन ने इसी वैकेंसी में नौकरी देने की बात कही. उसने यह भी कहा कि एसबीसी ने हमलोगों को उम्मीदवार लाने को कहा है. हम जो 80 हजार रुपये ले रहे हैं, उसमें से SBC जो पैसा ले रही है, उसमें मेरा भी कमीशन जुड़ा हुआ है.

इसे भी पढ़ें –FEEL GOOD MODE में सरकार, विधानसभा चुनाव से पहले सौगातों की बौछार

Related Articles

Back to top button