Education & CareerJharkhandLead NewsRanchi

NEWS WING की खबर पर लगी मुहर, स्नातक स्तरीय परीक्षा में खोरठा के संशोधित सिलेबस को JSSC ने हू-ब-हू किया जारी

Ranchi : न्यूज विंग की खबर एक बार फिर सही साबित हुई है. झारखंड कर्मचारी चयन आयोग की ओर से ली जानेवाली स्नातक स्तरीय परीक्षा में खोरठा के सिलेबस में संशोधन को लेकर 18 जनवरी को न्यूज विंग ने खबर प्रकाशित की थी.

“JSSC स्नातक स्तरीय परीक्षा में खोरठा का सिलेबस बदला, नया सिलेबस जारी करने के लिए आयोग कर रहा कार्मिक के पत्र का इंतजार” शीर्षक से प्रकाशित इस खबर में न्यूज विंग ने संशोधित सिलेबस की जानकारी दी थी. जानकारी देते हुए पूरा संशोधित सिलेबस प्रकाशित किया था.

आज झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने जनजातीय और क्षेत्रीय भाषा के तहत आनेवाले खोरठा भाषा के सिलेबस को जारी किया है. आयोग की ओर से जारी किया गया सिलेबस ठीक वही है जिसे 18 जनवरी को न्यूज विंग ने अपनी खबर में बताया था.

इसे भी पढ़ें:JSSC स्नातक स्तरीय परीक्षा में खोरठा का सिलेबस बदला, नया सिलेबस जारी करने के लिए आयोग कर रहा कार्मिक के पत्र का इंतजार

जानिये क्या है खोरठा का नया सिलेबस

1. गद्य साहित्य

  • (क) छाँहइर (कहानी संग्रह) लेखक चितरंजन महतो ‘चित्रा’
    केवल कहानी संख्या 1. छाँहर 2. बोनेक लोर 3. हाम कसें जीयब
  • (ख) सोध माटी (कहानी संग्रह) लेखक डॉ बिनोद कुमार
    केवल कहानी भाग से तीन कहानी 1. उबार, 2. ओद दीदा, 3. हूब
  • (ग) खोरठा निबंध (निबंध संग्रह) लेखक डॉ बी एन ओहदार
    केवल तीन निबंध 1. सोबटाय चले है 2. हामिन के संस्कृति आर तकर उपर संकट 3. हामें खड़ा हों
  • (घ) अजगर (नाटक) लेखक विश्वनाथ धसौंधी ‘राज’

इसे भी पढ़ें:आइसा और इंकलाबी नौजवान सभा ने 28 जनवरी को किया बिहार बंद का ऐलान

2. पद्य साहित्य

  • (क) दामुदरेक कोरात्र (खंड काव्य) कवि: शिवनाथ प्रमाणिक
    केवल दो सर्ग 1. मेला 2. सरंची कमल
  • (ख) आँखीक गीत (कविता संग्रह) – कवि: श्रीनिवास पानुरी
    केवल पांच कवितायें कविता संख्या 1, 10, 22, 33, 51
  • (ग) खोरठाक काठे पड़देक खड़ी कवि : एके झा
    केवल कविता तीन कविताएं 1. चनफन मानुस 2. सवागत 3.लउतन जुगुत भाभय

इसे भी पढ़ें:ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान चरणजीत सिंह का निधन

3. साहित्य की अन्य विधाएं : जीवनी, संस्मरण और यात्रावृतांत

  • (क) जीवनी शेख भिखारी, लेखक : पारस नाथ महतो
    बड़का बुजरुक बिरसा, लेखक : एके झा
  • (ख) संस्मरण : बोरवा अड्डाक अखड़ बोर, लेखक: शांति भारत
    उड़ड़ गेलइ फुलवा रइह गेलक बास; लेखक : गोविंद महतो जंगली
  • (ग) यात्रा वृत्तान्त दार्जीलिंग आर गंगतोकेक जातरा, लेखक : डॉ चतुर्भुज साहू

4. व्याकरण एवं खोरठा पाठबोध

खोरठा संज्ञा, सर्वनाम, लिंग, वचन, काल, कारक, समास, उपसर्ग-प्रत्यय और अपठित गद्यांश से प्रश्न

5. लोकसाहित्य

केवल प्रकीर्ण लोकसाहित्य से
खोरठा लोकोक्ति-मुहावरे और पहेलियां

इसे भी पढ़ें:मुंबई पुलिस ने बरामद किये ₹7 करोड़ के नकली नोटों का जखीरा, अंतर-राज्यीय गिरोह का भंडाफोड़, 7 गिरफ्तार

Advt

Related Articles

Back to top button