न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांची लोकसभा क्षेत्र के चप्पे-चप्पे की खबर, सुने क्या चाहते हैं नयी सरकार से युवा

918

NEWS WING TEAM

Ranchi: झारखंड में सोमवार को चार सीटों पर वोटिंग हो रहे हैं. न्यूज विंग की टीम ने रांची के कई बूथों पर जाकर लोकसभा के इस महापर्व का कवरेज किया. हरमू रोड, गाड़ीखाना, हरमू इलाकों के कई मतदान केंद्रों में युवा से लेकर बुजुर्गों, महिलाओं, दिव्यांगों सहित राजनेता, न्यायाधीशों ने पंक्तिबद्ध होकर अपने वोट का प्रयोग करते देखे गए.

मतदान प्रक्रिया सुबह सात बजे से शुरू हुई. केंद्र में कैसी सरकार सत्ता में आए, इसे लेकर न्यूज विंग संवाददाता ने इन इलाकों के कई बूथों में आने वाले मतदाताओं से इसकी जानकारी ली. युवा लड़कियों में जहां पीएम मोदी के प्रति जबरदस्त क्रेज देखने को मिला. वही राजनेताओं ने देश में विकास करने वाली सरकार को सत्ता में आने की बात कही. गाड़ीखाना स्थित बूथ संख्या 138 में अधिकारी और मतदाताओं के बीच थोड़ी नोंकझोंक देखने को मिली.

इसे भी पढ़ें – काफी आसान हो गयी है वोटिंग प्रक्रिया, वोटर पर्ची नहीं रहने पर भी लोग कर रहे हैं सहयोग

देखें और सुने क्या कहा न्यायाधीश ने

इसे भी पढ़ें – हजारीबाग : बड़कागांव के बरवाडीह  में बूथ नंबर 147, 148,149 पर वोट बहिष्कार, बोले वोटर्स – नेता देते…

कड़ी धूप को मात दें लंबी कतारों में लगे रहे लोग

चुटिया और क्लब रोड में वोटिंग को लेकर लोगों के उत्साह का आलम ये था कि धूप का असर भी लोगों में नहीं हुआ. कहीं छाता तो कहीं सर पर तौलिया और दुपट्टा लेकर लोगों को कतारों में खड़े देखा गया. चुटिया और क्लब रोड स्थित सभी मतदान केंद्रों में सुबह 6.30 बजे से ही लोगों की कतार में लग गए.

एसपीजी मिशन, ऑक्सफोर्ड स्कूल, मिस हिव्फम उत्क्रमित प्राथमिक विद्यालय महादेव मंडा में सुबह छह बजे से ही लोगों का जुटान शुरू हो गया था. न्यूज विंग की ओर से चुटिया और क्लब रोड स्थित बूथ नंबर 209, 210, 212, 213, 214, 215, 322, 323, 345, 346, 347, 348, 349, 350, 351, 352, 353, 354, 355, 356, 357, 358, 359, 360, 361, 362, 363, 364, 367, 368, 369, 370 समेत अन्य बूथों का जायजा लिया गया.

इसे भी पढ़ें – लोकसभा चुनाव 2019 : पांचवे फेज में इन दिग्गजों की साख दांव पर, कांटे की है टक्कर

धीमी वोटिंग को लेकर कई जगहों शिकायत

चुटिया स्थित राज्कीयकृत मध्य विद्यालय पावर हाउस स्थिति बूथ संख्या 345, 347 में लोगों ने धीमी वोटिंग की शिकायत की. लोगों को यह कहते सुना गया कि एक घंटे से कतार आगे बढ़ ही नहीं रही है. वहीं योगदा सत्संग स्थित बूथ संख्या 368 में आधे घंटे देर से वोटिंग शुरू हुई. जबकि यहां लोग सुबह 6.30 बजे से ही कतारों में खड़े थे. मतदान कर्मियों से जानकारी मिली की वोटिंग मशीन की सील नहीं खुलने के कारण वोटिंग में देर हुई.

कुछ मतदाताओं को बिना वोट किए लौटना पड़ा

Related Posts

भाजपा शासनकाल में एक भी उद्योग नहीं लगा, नौकरी के लिए दर दर भटक रहे हैं युवा : अरुप चटर्जी

चिरकुंडा स्थित यंग स्टार क्लब परिसर में रविवार को अलग मासस और युवा मोर्चा का मिलन समारोह हुआ.

SMILE

एसपीजी मिशन स्थित बूथ संख्या 339 और 340 में कई वोटरों को बिना वोट किए लौटते देखा गया. लोगों ने बताया कि इन्होंने जनवरी में ही फॉर्म भरा था, लेकिन न ही इनका वोटर नंबर आया और न ही कुछ. इस दौरान निवार्चन आयोग की ओर से जारी 1950 नंबर भी नहीं लगने के कारण लोगों ने लगाया. इन दोनों बूथों से काफी संख्या में लोगों को वापस लौटते देखा गया.

हाल कोकर, लालपुर और कांटाटोली का

कोकर, लालपुर, और कांटाटोली इलाके में सुबह सात बजे तक वोटरों की लंबी कतारें लग गई थीं. सुबह आठ बजते-बजते वोटर आते गये और कारवां बनता गया. सभी कतार में खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे. इन क्षेत्रों के मतदान केंद्रों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं.

अधिकांश मतदान केंद्रों में एंबुलेंस, व्हील चेयर, पेयजल की व्यवस्था उपलब्ध कराई गई है. वहीं सामाजिक संगठनों की ओर से बुर्जुगों और दिव्यांगों वोटरों को बूथ तक पहुंचाया जा रहा था. कोकर व्यापार संघ की ओर से भी बुर्जुग और दिव्यांग वोटरों की मदद की जा रही है.

इसे भी पढ़ें – हेमंत सोरेन पर आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप, भाजपा ने निर्वाचन आयोग से शिकायत की

सेल्फी का दिखा क्रेज

मतदान केंद्र में वोट देने के बाद सेल्फी का भी क्रेज दिखा. सेल्फी जोन में हर कोई सेल्फी लेने को बेताब नजर आया. कई वोटर तो दूसरे का फोटो खींचने का आग्रह करते भी नजर आये. कई सामाजिक संगठनों ने बुर्जुग और दिव्यांग वोटरों को मतदान केंद्र तक पहुंचने में मदद कर रहे थे. कोकर व्यापार संघ की ओर से बुर्जुग और दिव्यांग वोटरों को मतदान केंद्र तक पहुंचाया जा रहा था.

दलों के कार्यकर्ता भी मुस्तैद

मतदान केंद्रों के बाहर दलों के कार्यकर्ता भी मुस्तैद दिखे. अपने इलाके के वोटरों को पर्ची थमाकर अपने दल के उम्मीदवार को वोट देने का आग्रह करते नजर आये. नाम खोजने और बूथ संख्या बताने में दलों के कार्यकर्ता कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे थे. इसपर प्रशासन की पैनी नजर थी. हालांकि अपने दलों का बूथ मैनेजमेंट करने वाले कार्यकर्ता मतदान केंद्र से दूर बैठे थे.

मिक्स आबादी वाले इलाके में हुई जबरदस्त वोटिंग

उन इलाके में जहां कई समुदाय के लोग रहते हैं, वहां बूथ पर लंबी कतार देखने को मिल रही है. मदरसा प्रोग्रेसिव उच्च विद्यालय बड़गाई के बूथ नंबर 400 और 401 पर सुबह छह बजे से ही मतदाता कतार में खड़े थे. लेकिन ईवीएम खराब होने की वजह से मतदान एक घंटा 20 मिनट देर से शुरू हो पाया. एक बजे तक लंबी लाइन लगी थी.

डीएवी नंदराज में चार मतदान केंद्र बनाये गये थे, जहां सुबह 10 बजे के बाद भीड़ कम होती गयी. वहीं राजकृत उर्दू उत्क्रमित विद्यालय पहान टोली में लंबी लाइन देखने को मिली. बूथ संख्या 396 और 397 में 11 बजे तक लंबी लाइन देखी गयी. राजकीय बालिका प्लस टू उच्च विद्यालय को आदर्श मतदान केन्द्र बनाया गया था. दिन के 12 बजे तक लाइन खत्म हो चुकी थी.

इसे भी पढ़ें – लोकसभा चुनाव 2019 : पुलवामा में ग्रेनेड धमाका, बंगाल में TMC कार्यकर्ताओं ने बीजेपी प्रत्याशी को…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: