GiridihJharkhand

नवजात का नाम रखा लॉकडाउन, एसएनसीयू से मिलने वाले कार्ड में नाम दर्ज कराना चाहते हैं माता-पिता

Giridih :  सिहोडीह-सिरसिया निवासी वासुदेव वर्मा के घर नाती का जन्म हुआ  तो नवजात का नाम लॉकडाउन रखा गया. नाना-नानी द्वारा नवजात नाती का नाम लॉकडाउन रखे जाने के बाद इसकी चर्चा हो रही है. फिलहाल नवजात और उसकी मां अनुराधा वर्मा दोनों बिल्कुल स्वस्थ हैं. जानकारी के अनुसार सदर प्रखंड के चैताडीह स्थित एसएनसीयू मातृत्व शिशु स्वास्थ इकाई में शनिवार को वासुदेव वर्मा की छोटी बेटी अनुराधा वर्मा ने बेटे को जन्म दिया.

नवजात के जन्म लेने पर ही एसएनसीयू की नर्सो ने खुशी जाहिर करते हुए अनुराधा के पति पिंकू वर्मा और वासुदेव से कहा कि उनकी बेटी को लॉकडाउन हुआ है. नर्सो के यह कहने के बाद ही नाना वासुदेव वर्मा और अनुराधा के पति ने भी नवजात को प्यार से लॉकडाउन बुलाया.

वासुदेव वर्मा न्यूज पेपर वितरण का काम करते हैं. अनुराधा का ससुराल डुमरी प्रखंड के नईटांड गांव में है. अनुराधा के पति पिंकू वर्मा बेटा होने से अधिक उसका नाम लॉकडाउन होने पर उत्साहित हैं. फिलहाल पिंकू वर्मा एसएससी की तैयारी कर रहे हैं. पूछे जाने पर अनुराधा व उनके पति पिंकू ने कहा कि बेटे का बिल्कुल अलग नाम होने से उसके दादा-दादी भी खुश हैं.

SIP abacus

इसे भी पढ़ेंः #Corona की चपेट में आये मुंबई के 53 मीडियाकर्मी, बढ़ सकता है आंकड़ा

MDLM
Sanjeevani

सदर अस्पताल में आईसीयू यूनिट चालू करने की प्रकिया हुई तेज

सदर अस्पताल मं जायजा लेने पहुंचे विधायक.

सोमवार को विधायक सोनू के साथ सिविल सर्जन डा. अवद्येश सिन्हा और चैंबर अध्यक्ष निर्मल झुनझूनवाला सदर अस्पताल पहुंचे. अस्पताल के उस वार्ड का निरीक्षण किया. जहां आईसीयू यूनिट के सेटअप को फिट किया जा रहा है. इस दौरान विधायक ने सीएस से जानकारी भी ली. जिसमें सिविल सर्जन ने बताया कि सेटअप पूरी तरह से तैयार हो चुका है.

सिर्फ टेक्नीकल टीम द्वारा ट्रायल किया जाना है. हालांकि सीएस ने यह भी बताया कि कुछ मेडिसीन के आने बाकी हैं. मेडिसीन के आने व ट्रायल होने के दूसरे दिन आईसीयू का उद्घाटन कर दिया जाएगा. इस दौरान सिविल सर्जन ने बताया कि चार दिनों के बाद पीएमसीएच से कोविद-19 के 23 जांच रिपोर्ट आयी हैं. सभी निगेटिव हैं. हर रोज 15 से 20 ब्लड सैंपल जांच के लिए भेजे जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः #Lockdown : खुलेंगे राजधानी के उद्योग, डीसी ने विभाग और चेंबर प्रतिनिधि के साथ बैठक कर लिया निर्णय

सरकारी काम-काज हुआ शुरू 

इधर लॉकडाउन के दौरान सरकार द्वारा रियायत दिए जाने की घोषणा के बाद सोमवार को तमाम सरकारी कार्यालय 26 दिनों बाद खुले. और पदाधिकारियों के साथ कर्मी भी काम निपटाते नजर आये. इस दौरान डीसी राहुल सिन्हा खुद कई कार्यालय पहुंच कर सामाजिक दूरी के नियमों का जायजा लेते नजर आये.

पथ प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता जयकांत राम जहां मास्क लगाकर अकेले कामों को निपटा रहे थे. वहीं कार्यालय कर्मी भी अपने काम में व्यस्त थे. सामाजिक दूरी के नियमों का पालन डीटीओ कार्यालय, सदर एसडीएम कार्यालस, खनन विभाग समेत हर जगह हो रहा है.

इसे भी पढ़ेंः लॉकडाउन को लेकर डीवीसी के ऐश पौंड से छाई का उठाव नहीं होने से बंद किया गया पावर प्लांट

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button