न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नये साल से टीवी देखना पड़ेगा महंगा

212

NW Desk: टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) टेलीविजन दर्शकों के लिए दो बड़े कानून बदलने वाला है. इससे डिश की मदद से टीवी देखने वाले लोगों के खर्चे बढ़ सकते हैं. एक जनवरी से टीवी देखने का मासिक खर्च बढ़ सकता है. नये नियमों के कारण आपके डीटीएच का मासिक बिल बढ़ सकता है. दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने केबल चैनलों के शुल्क में काफी बढ़ोतरी कर दी है. नये नियमों के मुताबिक अब फ्री-टू एयर (एफटीए) चैनलों को देखने के लिए भी दर्शकों को पैसा खर्च करना पड़ेगा. नये नियम डीटीएच, केबल और ब्रॉडकास्टर्स पर लागू होंगे.

ट्राई नये टैरिफ ऑर्डर लगा रहा है, जिसके बाद ब्रॉडकास्ट सेक्टर को अपने कंज्यूमर को चैनल सेलेक्ट करने और उसी के पैसे देने का ऑप्शन उपलब्ध कराना होगा. यानी टीवी दर्शकों को अपनी पसंद के चैनल को चुनना होगा और उसके लिए उतनी कीमत चुकानी होगी, जितनी ब्रॉडकास्टर चुनेगा.

नये नियमों में दर्शक जितने चैनल देखना चाहेंगे, उनको उतना ही पैसा देना होगा. डीटीएच और केबल ऑपरेटर्स को प्रत्येक चैनल के लिए तय एमआरपी की जानकारी अपनी यूजर गाइड में देनी होगी. डीटीएच कंपनी और केबल ऑपरेटर को यह नियम मानना होगा.

FREE चैनल्स के लगेंगे पैसे

मतलब ये कि 1 जनवरी 2019 से आपको हर चैनल या फिर किसी ग्रुप के चैनल एक साथ एमआरपी पर खरीदना होगा. इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) केबल और डीटीएच के लिए नई गाइडलाइंस ला रहा है, जो एक जनवरी 2019 से लागू होंगी. नई गाइडलाइंस की वजह से आपके केबल का बिल बढ़ेगा. आपके खर्च में 200 से 400 रुपए का खर्च बढ़ेगा. साथ ही साथ आपको फ्री चैनल्स के लिए भी पैसे देने होंगे.

Related Posts

Economist देसारदा ने कहा, मोदी सरकार ने पांच साल पहले #Economy मजबूत करने का अवसर गंवाया    

2013 में कच्चे तेल के दाम 110 डॉलर प्रति बैरल थे. उन्होंने कहा, नरेंद्र मोदी की सरकार के सत्ता में आने के बाद कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट आयी

केबल और DTH में आपको 100 चैनल फ्री में मिलते हैं, जिसका कोई चार्ज आपको नहीं चुकाना होता है. ये फ्री चैनल आपको हर पैकेज के साथ मिलते हैं और जिनका कोई पैसा आपको नहीं देना होता, लेकिन 1 जनवरी 2019 से इसके भी पैसे चुकाने होंगे. इसके लिए यूजर्स को करीब 130 रुपए चुकाने पड़ेंगे, यानी आपका खर्च बढ़ना तय है. इतना ही नहीं 1 जनवरी से हर ग्राहक को 130 रुपए और इसपर 18 फीसदी जीएसटी देना होगा. यानी टीवी पर 100 चैनल्स देखने के लिए भी अब आपको कम से कम 130 रुपए जीएसटी का भुगतान करना ही होगा.

किस चैनल के कितने रुपए

फ्री चैनल्स के अलावा आप अपनी पसंद का जो भी चैनल देखना चाहते हैं उसे आप चुन सकते हैं. आप सिंगल उस चैनल को अमआरपी या फिर उसके पूरे समूह के साथ खरीद सकते हैं. किस चैनल की कितनी कीमत होगी, ये आप टीवी पर देख सकते हैं. हर चैनल पर पिछले 10 दिन से ग्राहक की सुविधा के लिए अपना रेट प्रसारित कर रहा है. जैसे अगर आप स्टार प्लस, जी टीवी, कलर, सोनी और सोनी सब का एक-एक चैनल देखना चाहते हैं तो आपको 19 रुपए हर चैनल के लिए महीने देने होंगे. जबकि स्टार भारत के लिए 10 रुपए और एंड टीवी के 12 रुपए हर महीने लगेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: