Corona_UpdatesLead NewsNational

डेल्टा से भी खतरनाक कोरोना के नए वेरिएंट ने बढ़ाई टेंशन, दिल्ली के LG ने बुलाई मीटिंग

दक्षिण अफ्रीका में इस वेरिएंट की हुई है पहचान, डेल्टा से भी तेजी से फैलता है

New Delhi : कोरोना महामारी की वजह से होनेवाली परेशानी थमने का नाम नहीं ले रही हैं. अब डेल्टा वेरियंट से भी ज्यादा खतरनाक नए वेरिएंट ने टेंशन बढ़ा दी है. महामारी की दूसरी लहर जैसी गंभीर स्थिति फिर न बने, इसके लिए दिल्ली की सरकार ने तैयारी शुरू हो गई है. इसी के मद्देनजर दिल्ली के उपराज्यरपाल अनिल बैजल 29 नवंबर को बैठक करेंगे.

इसे भी पढ़ें:विदेश जाने और आनेवाले यात्रियों के लिए खुशखबरी, जानें कब से शुरू होंगी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें

वैक्सीन को चकमा दे सकता है

इस बीच एम्स ने कहा है कि यह नया वेरिएंट है. इसे लेकर लापरवाही नहीं बरती जा सकती है. कोरोना के नए वेरिएंट से दुनिया में फिर हाहाकार मच गया है. जानकार इस वेरिएंट को समझने में जुट गए हैं. हालांकि, उन्हें लगता है कि यह डेल्टा से ज्यादा रफ्तार से फैलता है. साथ ही यह वैक्सीन को चकमा दे सकता है. यानी इस पर वैक्सीिन बेअसर है.

दक्षिण अफ्रीका में इस वेरिएंट की पहचान हुई है. इसे देखते हुए भारत सरकार भी चौकन्नी हो गई है. उसने दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना और हांगकांग के यात्रियों की कड़ी स्क्रीनिंग के निर्देश दिए हैं.

इसे भी पढ़ें:सीएम ने गढ़वा को दी सौगात, नये समाहरणालय भवन का किया शिलान्यास, घंटा घर का किया उद्घाटन

बोत्सवाना सहित आसपास के देशों में फैला

इस सप्ताह पहली बार इस वेरिएंट की पहचान दक्षिण अफ्रीका में हुई. यह स्ट्रेन बोत्सवाना सहित आसपास के देशों में फैल गया है. इसने पूरी तरह से वैक्सींनेटेड लोगों को भी संक्रमित किया है. कोरोना के नए वेरिएंट का नाम B.1.1.529 है जिसे ‘बोत्सवाना वेरिएंट’ भी कहा जा रहा है.

कोरोना के इस नए स्ट्रेरन के सामने आने के बाद सरकारें हरकत में आ गई हैं. उपराज्यपाल अनिल बैजल 29 नवंबर को दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) की बैठक की अध्यक्षता करेंगे. बैठक में अन्य बातों के साथ-साथ कोरोना के नए वेरिएंट बी.1.1.529 के मद्देनजर स्थिति और तैयारी पर भी चर्चा होगी.

इसे भी पढ़ें:पत्नी ने सुबह जल्दी खाना नहीं बनाया तो गोली से उड़ाया, फिर तमंचा लेकर पहुंचा थाना

क्या कहते हैं विशेषज्ञ

वहीं, सेंटर फॉर कम्युनिटी मेडिसिन, एम्स के डॉ संजय राय ने बताया कि यह एक नया वेरिएंट है. अभी ‘वेट एंड वॉच’ की पॉलिसी अपनानी होगी. इसके बारे में चीजों को देखने की जरूरत है. अभी हम नहीं जानते कि यह किस हद तक इंफेक्सियस है. हालांकि, इस बात की संभावना है कि यह आपकी मौजूदा इम्यूनिटी को बाईपास कर सकता है. अगर ऐसा ही है तो यह गंभीर मामला है.

इसे भी पढ़ें:महिला हॉकी जूनियर वर्ल्ड कप में खेलेने द. अफ्रीका जायेंगी झारखंड की बेटियां ब्यूटी, संगीता और सलीमा

Related Articles

Back to top button