JharkhandLead NewsRanchi

दिव्यांगों के लिए आ रही नयी योजना, बिना ब्याज के मिलेगा ऋण

Ranchi: सूबे के करीब 11 लाख दिव्यांगों के लिए राज्य सरकार बड़ी राहत लेकर आ रही है. दिव्यांगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए दिव्यांगजन राजकोष का गठन किया जायेगा. इससे उन्हें शिक्षा के साथ-साथ स्वरोजगार के लिए बिना किसी ब्याज के ऋण मिलेगा.
राज्य निःशक्त्ता आयुक्त सतीश चंद्रा ने बताया कि राजकोष के गठन को लेकर प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है. इसके लिए सरकार दो करोड़ रुपये कोष में उपलब्ध करायेगी. बाद में इस कोष में विभिन्न माध्यमों से राशि जमा कर इसे दिव्यांगों के लाभ के लिए बढ़ाया जायेगा.

इसे भी पढ़ें :आज से बदल रहे इन नियमों का आप पर होगा सीधा असर

उन्होंने बताया कि प्रस्ताव के अनुसार इस योजना के क्रियान्वयन के लिए शासी परिषद का गठन किया जायेगा. लाभुकों का चयन और ऋण की राशि का निर्धारण उपायुक्तों की अनुशंसा पर शासी परिषद करेगी.

सतीश चंद्रा ने बताया कि राज्य में दिव्यांगजन नीति लागू है, जिसमें भी दिव्यांग युवाओं के लिए रोजगार एवं आर्थिक विकास के दायरे को बढ़ाने पर जोर दिया गया है. दिव्यांगों को उच्च शिक्षा व रोजगार के लिए ऋण मिलने से उनके आगे बढ़ने का मार्ग प्रशस्त होगा.
दिव्यांग किसी ना किसी क्षेत्र में आगे रहते हैं. जरूरत है तो इन्हें उस क्षेत्र में आगे बढ़ाने की ताकि वे अपने पैरो में खड़े हो सकें और अपनी जिम्मेदारी खुद ले सकें.

पहले से चल रही योजनाओं में लिया जाता है ब्याज

दिवयांगों के लिए कई योजनाएं पहले से भी चल रही है, जिसमें इन्हें कई लाभ दिए जा रहे हैं. इनके कल्याण के लिए इंदिरा गांधी राष्ट्रीय दिव्यांग पेंशन योजना, स्वामी विवेकानंद निश्शक्त स्वावलंबन प्रोत्साहन योजना आदि संचालित हैं.
इन योजनाओं के अलाचा अभी जो भी ऋण इन्हें दिए जा रहे हैं उसमें ब्याज लिया जा रहा है, हालांकि ब्याज की दर कम है, लेकिन इस नयी योजना के बाद दिव्यांगों के लिए यह बड़ा सहयोग होगा.

इसे भी पढ़ें:रात के अंधेरे में होती थी विस्फोटक की सप्लाइ, दो गिरफ्तार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: