JobsKhas-KhabarMain SliderNationalNEWS

एक जुलाई से लागू होगा नया श्रम कानून, जानिए आपके वेतन से लेकर काम के घंटे में क्या होगा बदलाव

Sanjay Prasad
Jamshedpur : केंद्र सरकार एक जुलाई से नया लेबर कोड लागू करने जा रही है. इसके लागू होने के साथ ही मजदूरी, सामाजिक सुरक्षा, व्यवसाय सुरक्षा, औद्योगिक संबंध, स्वास्थ्य और काम करने की स्थिति में आमूल चूल बदलाव आ जाएगा. नये लेबर कोड में सप्ताह में चार दिन काम करने का प्रावधान है. नया वेतन कोड सैलरी स्ट्रक्चर के साथ ही पीएफ कॉन्ट्रिब्यूशन, काम के घंटे और अर्जित अवकाश नकदीकरण सहित अन्य परिवर्तनों को भी प्रभावित करेगा. अभी तक केवल 23 राज्यों ने इन कानूनों के लिए नियमों का ड्राफ्ट प्रकाशित किया है. विशेष रूप से केंद्र ने फरवरी 2021 में इन कोड्स पर ड्राफ्ट नियमों को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया समाप्त कर दी थी.

क्या होगा इसका असर

हाथ में वेतन कम, पीएफ और ग्रेच्युटी में बढ़ोतरी

ram janam hospital
Catalyst IAS

नया वेतन कोड का प्रावधान बताता है कि कर्मचारी का बेसिक सैलरी ग्रास मासिक सीटीसी (CTC) का कम से कम 50 प्रतिशत होना चाहिए. इसका मतलब है कि हाथ में मिलने वाले वेतन में कमी और पीएफ (PF) और ग्रेच्युटी (gratuity) में बढ़ोतरी होगी.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

हफ्ते में चार दिन काम करने की अनुमति

नया श्रम कानून कर्मचारियों को चार-दिवसीय कार्य सप्ताह की अनुमति दे सकता हैं, बशर्ते वे वर्किंग डे में 12 घंटे काम करें. श्रम मंत्रालय के मुताबिक सप्ताह में 48 घंटे काम करना जरूरी है.

अर्नड लीव पॉलिसी में बदलाव

नया वेतन कोड कर्मचारियों की 300 छुट्टियों तक नकद करने की अनुमति देगा. खासतौर पर लीव एलिजिबिलिटी को एक वर्ष में काम के 240 दिनों से घटाकर 180 दिन कर दिया गया है.

इसलिए ज्यादा सीटीसी देख खुश न हों

कर्मचारियों को अपने ऑफर लेटर में ज्यादा सीटीसी देखकर खुश नहीं होना है. टेक-होम वेतन पर अच्छे से नज़र डालना महत्वपूर्ण है. कुछ कंपनियां अपना मासिक पीएफ योगदान कर्मचारियों के सीटीसी में डालती हैं. यह एक गलत प्रथा है और अगर इसे नज़रअंदाज किया गया तो टेक-होम वेतन में काफी गिरावट आएगी. ऑफर लेटर में अपना सीटीसी चेक करते हैं, तो यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि पीएफ में रिक्रूटर के मासिक योगदान का उल्लेख नहीं किया गया है.

इसे भी पढ़ें – Jamshedput: कुमीर में विद्युत सब स्टेशन का सांसद विद्युत वरण महतो व विधायक मंगल कालिंदी ने किया उद्घाटन

 

 

Related Articles

Back to top button