JharkhandNEWSOFFBEAT

ना बैंड-बाजा, ना बाराती, 24 किमी साइकिल चलाकर अकेले ही शादी करने पहुंचा दूल्हा

Bhagalpur: कोरोना संकट और लॉकडाउन के चलते शादी समारोह पर खासा असर पड़ रहा है. कई लोगों की शादियां इस दौरान कैंसल हो रही हैं. इसी बीच एक मामला बांका में भी सामने आया.  जहां एक शख्स शादी के लिए बगैर बैंड-बाजा और बाराती के अकेले ही साइकिल से अपनी दुल्हन के घर भागलपुर पहुंच गया. बांका के शंभूगंज प्रखंड में रहने वाले गौतम कुमार ने करीब 24 किलोमीटर साइकिल चलाकर भागलपुर के सुल्तानगंज ब्लॉक में कंचननगर गांव पहुंचा.

पिछले साल जनवरी में तय हुई थी शादी

गौतम की शादी पिछले साल जनवरी में तय हुई थी लेकिन कोरोना महामारी की वजह से उस समय ये शादी टल गई, इस साल भी लगातार लॉकडाउन के चलते शादी की तारीख टल रही थी. उनके इस साहसिक कदम की तारीफ तो हो ही रही, ससुराल पक्ष के लोगों ने युवक का शानदार स्वागत किया. साथ ही शादी की रस्म भी पूरी की.

Chanakya IAS
Catalyst IAS
SIP abacus

बीडीओ ने की तारीफ, इनाम भी दिया

The Royal’s
Sanjeevani
MDLM

बीडीओ प्रभात रंजन ने कहा कि बांका जिला प्रशासन दुल्हन के लिए मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत इनाम की सिफारिश करेगा. उन्होंने बताया कि आवश्यक फॉर्म भरा जा रहा है. स्थानीय मुखिया की ओर से विवाह प्रमाण पत्र जारी करने के बाद इसे संबंधित अधिकारियों को भेजा जाएगा.

पिछले साल जनवरी में तय हुई थी शादी

गौतम और कुमकुम की शादी पिछले साल जनवरी में होनी थी. हालांकि, कोविड संक्रमण के कारण इसमें देरी हुई और दोनों परिवारों ने इसे 2021 के लिए टाल दिया. इसके बाद इस बार भी महामारी के बढ़ते संक्रमण और लॉकडाउन से शादी की डेट टलती दिखाई दी. आखिरकार दूल्हे गौतम ने खास फैसले के तहत करीब 15 महीने तक इंतजार के बाद अकेले ही शादी में शामिल होने और सात फेरे का फैसला लिया. गौतम अपने घर पर परिजनों की इजाजत लेने के बाद साइकिल से कुमकुम के घर पहुंचे और अपनी दुल्हनिया संग शादी के बंधन में बंध गए.

इसे भी पढ़ें: ब्लैक फंगस को शुरुआत में पहचान लिया गया तो इलाज में मिल सकती है मदद, देर होने पर घातक हो सकती है यह बीमारी

 

Related Articles

Back to top button