न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बिजनेस एक्शन रिफार्म प्लान के मामले ससमय निबटाये जाने की जरुरत- उपायुक्त

उद्योगों को मिलेगा बेहतर माहौल, खुलकर करें निवेश

400

Lohardaga:  सिंगल विंडो सिस्टम के तहत समाहरणालय सभागार में जिला स्तरीय बिजनेस रिफॉर्म एक्शन प्लान पर कार्यशाला हुई. कार्यशाला की अध्यक्षता डीसी बिनोद कुमार ने की. इस अवसर पर उपायुक्त ने कहा कि बिजनेस एक्शन रिफार्म प्लान के मामले ससमय निबटाये जाने की जरुरत है. मामले को किसी भी हाल में लंबित न रखें. निवेशक अपनी मांगों को जिला उद्योग विभाग की वेबसाइट पर अपलोड करें. उन्होंने निवेशकों को भरोसा दिलाया कि जिला प्रशासन उनकी मदद के लिए प्रतिबद्ध है. मामले में विलंब होने पर वे उनसे सीधे संपर्क कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें-धड़ल्ले से काटे जा रहे वन, जनसंवाद केन्द्र में शिकायत पर भी कार्रवाई नहीं

कारोबारियों को नहीं होगी परेशानी

कार्यशाला में पदाधिकारियों को विस्तृत रूप से जिलास्तरीय बिजनेस रिफॉर्म एक्शन प्लान के बारे में जानकारी दी गई. कार्यशाला में डीएलबीआरएपी के नोडल पदाधिकारी सह सिंगल विंडो सिस्टम (एसडब्ल्यूएस) के सदस्यों ने बिजनेस के तहत अनुज्ञप्ति, निबंधन, अनुमोदनार्थ आदेश निर्गत करने की ऑनलाइन प्रक्रिया के बारे में बताया.

इसे भी पढ़ें-जियो इंस्टीट्यूट ट्विटर अकाउंट चलानेवाले के खिलाफ भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने दर्ज करायी FIR

उन्होंने बताया कि अब सभी जिलों की रैंकिंग डीएलबीआरएपी के तहत होगा। इसके लिए सभी विभागों को एफिशिएंसी ऑफ रिफॉर्म्स, फैसिलिटेशन ऑफ इंडस्ट्रीज, इन्वेस्टर फैसिलिटेशन, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस, गवर्नेंस लैंड अवेलेबिलिटी पर विशेष बल देना होगा.

जिला प्रशासन के सहयोग के बिना उद्योगों का विकास नामुमकिन

कार्यशाला में मुख्य रूप से रांची से आए सिंगल विंडो सिस्टम के सदस्य श्रवण पाठक ने संबंधित पदाधिकारियों को व्यापार की शुरुआत के लिए विभाग द्वारा क्या-क्या सुविधाएं दी जानी चाहिए इसकी जानकारी दी. उन्होंने बिजनेस की शुरुआत के लिए जिला स्तर पर श्रम, कारखाना, अग्निशमन, उत्पाद, कृषि, खाद्यान्न, खनिज, राजस्व एवं सामान्य प्रशासन की तरफ से पूर्ण सहयोग की अपेक्षा रखते हुए कहा कि इनके बिना कोई भी उद्योग लगाना संभव नहीं है.

इसे भी पढ़ें- मुख्यमंत्री जनसंवाद में सीएम के सामने बोली युवती – सर, थाने में दारोगा ने किया है मेरे साथ रेप

जिला स्तर पर लागू हो सिंगल विंडो सिस्टम

उन्होंने सभी विभागों को अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने की अपील की. उन्होंने कहा कि उद्योग लगाने के लिए जिला स्तर पर भी सिंगल विंडो सिस्टम लागू होना चाहिए, ताकि किसी भी उद्यमी को उद्योग स्थापित करने में परेशानी न हो.  समय पर उद्योगों को स्थापना के लिए क्लियरेंस मिल जानी चाहिए. उन्होंने जिला में उद्योगों की स्थापना के लिए एसओपी बनाने को कहा.

इसे भी पढ़ें-अर्जुन मुंडा का यह ट्वीट कहीं सत्ता पर काबिज हुक्मरानों के लिए कुछ इशारा तो नहीं

बैठक में कौन-कौन थे मौजूद ?

मौके पर मुख्य रूप से अपर समाहर्ता रंजीत सिन्हा, जिला योजना पदाधिकारी महेश भगत, जिला अवर निबंधक मनुजित प्रसाद, जिला शिक्षा अधीक्षक श्रीमति रेणुका तिग्गा, जिला सांख्यिकी पदाधिकारी, जिला कृषि पदाधिकारी सहित जिले के अनेक वरीय पदाधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: