न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

छद्म देशभक्तों से सचेत रहने की जरूरत : महेश अमन

 आईना ने प्रस्तुत की देशभक्ति पर नुक्कड़ नाटक

293

Giridih : नाट्य संस्था आईना ने रविवार को स्थानीय अंबेडकर चौक पर स्वतंत्रता सैनानी शहीद करतार सिंह सराभा के बलिदान पर आधारित एक नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया. देशभक्ति पर आधारित इस नुक्कड़ नाटक को लोगों ने काफी सराहा. लोग शुरू से अंत तक नाटक को देखने के लिए रुके रहे

इसे भी पढ़ें-   जेएससीए की एजीएम संपन्न, अमिताभ चौधरी ने की लातेहार टीम की प्रशंंसा

कौन थे करतार सिंह सराभा

सरदार करतार सिंह सराभा भारत अंग्रेजों की दासता से मुक्त करने के लिये अमेरिका में बनी गदर पार्टी के अध्यक्ष थे. भारत में एक बड़ी क्रांति की योजना के सिलसिले में उन्हें अंग्रेजी सरकार ने कई अन्य लोगों के साथ फांसी दे दी. 16 नबंर 1915 को करतार सिंह को जब फांसी पर चढ़ाया गया, तब वे मात्र साढ़े उन्नीस वर्ष के थे. प्रसिद्ध क्रांतिकारी भगत सिंह उन्हें अपना आदर्श मानते थे.

इसे भी पढ़ें-   कोर कैपिटल निर्माण में एचईसी विस्‍थापितों को नहीं मिला हक

नई पीढ़ी को देशभक्ति के मायने बताना जरूरी

अंतरराष्ट्रीय थियेटर काउंसिल के सदस्य और आईना के निदेशक महेश अमन ने कहा कि आजकल छद्म देशभक्ति का दौर चल रहा है. ऐसे में नई पीढ़ी को हमारे असली राष्ट्र नायकों से परिचय कराना बहुत जरूरी है. इसी कड़ी में शहीद करतार सिंह सराभा पर नुक्कड़ नाटक किया गया. इसकी अगली कड़ी में शहीद भगत सिंह के जीवन पर आधारित नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति की जाएगी.

आज की प्रस्तुति में आंदोलनकारी की भूमिका में आदित्य, पुरुषोत्तम, सतीश, प्रतीक, करतार सिंह सराभा की भूमिका में संतोष, चन्द्रशेखर आज़ाद की भूमिका में पारस, जज की भूमिका में सागर व आकाश, सिपाही की भूमिका में आदित्य व पुरुषोत्तम ने अपने अभिनय से दर्शकों को बांधे रखा. सूत्रधार की भूमिका में नाटक के लेखक और निर्देशक महेश अमन खुद थे.

इसे भी पढ़ें-   अडानी पावर प्लांट के लिए जमीन नही देने वाले रैयतों की अाजीविका संकट में

इसे भी पढ़ें-  उपलब्धि : रांची की PMAY महिला लाभुक ने पीएम के सवालों का दिया जवाब, खुश दिखे मोदी

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: