JharkhandLead NewsNEWSRanchiTOP SLIDER

झारखंड के करीब 24 लाख लाभुकों को नहीं मिल सकेगा निशुल्क राशन

ग्रीन राशन कार्ड के 15 लाख लाभुक हो जाएंगे वंचित

Anuj tiwary

Ranchi: झारखंड के करीब 15 लाख ग्रीन राशन कार्डधारियों को निशुल्क राशन नहीं दिया जाएगा. साथ ही करीब नौ लाख राशन कार्ड आवेदकों को भी इस योजना से वंचित रहना होगा. योजना का लाभ वैसे लोगों को मिलेगा जिनके पास गुलाबी और पीला कार्ड है.

advt

 

सरकार के द्वारा मई और जून में राशन कार्ड धारियों को 5 किलो अनाज निशुल्क दिया जाना है, जिनमें 3 किलो चावल और 2 किलो गेहूं शामिल है. मगर, 24 लाख लोग राशन लेने की पात्रता रखते भी इस योजना से वंचित रह जाएंगे.

 

मालूम हो कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत निशुल्क राशन वितरण किया जाना है. इस योजना का लाभ सिर्फ पीले और गुलाबी राशन कार्ड धारियों को मिलेगा. खाद्य आपूर्ति विभाग के अनुसार पिछली बार आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत राशन कार्ड धारी और कार्ड के लिए आवेदन करने वाले लाखों लोगों को निशुल्क राशन मुहैया कराया गया था, लेकिन इस बार कल्याण योजना के तहत यह सुविधा सिर्फ उन्हें ही दी जाएगी जिन्हें केंद्र द्वारा राशन आवंटित किया जाता है.

 

विभागीय निदेशक दिलीप तिर्की बताते हैं कि इस बार केंद्र सरकार की योजना में ही बदलाव हुआ है जिसमें ग्रीन कार्ड राज्य सरकार के द्वारा पात्रता रखने वाले गरीबों को दिया जा रहा है जिनके लिए यह सुविधा फिलहाल नहीं दी गई है. राज्य सरकार चाहे तो इन हरे कार्ड धारियों और कार्ड के लिए आवेदन देने वाले लोगों को निशुल्क राशन मुहैया करा सकती है. फिलहाल इस दिशा में विभाग की ओर से कोई दिशानिर्देश जारी नहीं किया गया.

 

ऐसा पहली बार होगा जब 5 किलो अनाज में 2 किलो गेहूं भी लाभुकों को निशुल्क दिया जाएगा. यह 5 किलो अनाज अतिरिक्त राशन के रूप में सभी लाभुकों को दिया जाएगा जबकि वह पहले की तरह हर माह के कोटे का राशन वे उठाएंगे और उसके साथ अतिरिक्त 5 किलो का अनाज लाभुकों को मिलेगा. इस संबंध में विभाग ने दिशा निर्देश भी जारी कर दिया है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: