BiharNational

पटना के गांधी मैदान में तीन मार्च को एनडीए की रैली, मोदी फूकेंगे चुनाव का बिगुल

NewDelhi/Patna : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2019 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर बिहार में पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान से चुनावी शंखनाद करने जा रहे हैं. खबरों के अनुसार मोदी तीन मार्च को यहां एनडीए की रैली को संबोधित करेंगे. माना जा रहा है कि एनडीए की इस रैली में पीएम मोदी के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान भी मंच साझा करेंगे. जानकारों का कहना है कि पीएम मोदी पटना के गांधी मैदान में एनडीए की रैली के बहाने बिहार में भाजपा के लिए अधिक से अधिक सीटों पर जीत का रास्ता प्रशस्त करेंगे यह पहला मौक़ा होगा जब राजनीतिक मंच से बिहार के सीएम और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक बार फिर प्रधानमंत्री बनाने के लिए उनके कामकाज की तारीफ़ करने के अलावा लोगों से वोट देने की अपील भी करेंगे.

  नीतीश नरेंद्र मोदी के साथ राजनीतिक मंच साझा करेंगे

बता दें कि पीएम मोदी की रैली ऐसे वक्त में हो रही है, जब बिहार में भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस-राजद-हम-रालोसपा गठबंधन एक साथ है.  एनडीटीवी के अनुसार इस रैली में बिहार एनडीए गठबंधन के सभी घटक दलों के नेता शामिल होंगे. रैली में बिहार में गठबंधन के तीसरे घटक दल लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान और उनके पुत्र चिराग पासवान भी मौजूद रहेंगे. बता दें कि नीतीश कुमार ने 2017 के जुलाई महीने में जब से भाजपा के साथ फिर से सरकार बनाई है तब से कई बार संवाददाता सम्मेलन में और कुछ सरकारी कार्यक्रमों में उन्होंने इस बात का दावा सार्वजनिक रूप से किया है कि अगली बार फिर जनता जनादेश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पक्ष में देगी. लेकिन यह पहला मौक़ा होगा जब नीतीश नरेंद्र मोदी के साथ राजनीतिक मंच साझा करेंगे.

ram janam hospital
Catalyst IAS

2013 के अक्टूबर में मोदी कर चुके हैं गांधी मैदान में रैली

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

इससे पहले भी पटना के गांधी मैदान में पीएम मोदी रैली को संबोधित कर चुके हैं. नीतीश कुमार ने 2005 के बिहार विधानसभा चुनाव से लेकर 2010 तक भाजपा के साथ यह एक अलिखित शर्त रखी हुई थी कि बिहार के चुनावों में उस समय के गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रचार की कोई ज़रूरत नहीं है इसलिए उन्हें चुनाव से अलग रखा जाता था. लेकिन 2013 जून में जब नीतीश ने भाजपा का साथ छोड़ा, उसके बाद पहली बार अक्टूबर महीने में नरेंद्र मोदी ने पटना के गांधी मैदान से ही अपने लोकसभा चुनाव के अभियान की शुरुआत की थी. उसी रैली के दौरान बम ब्लास्ट में कई लोगों की जानें गयीं और पार्टी को पूरे देश में इसका भरपूर लाभ मिला.

तीन फरवरी को राहुल गांधी की पटना के गांधी मैदान में रैली

तीन फरवरी को राहुल गांधी भी पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में ही रैली को संबोधित करेंगे और वह राज्य में कांग्रेस का शक्ति प्रदर्शन करेंगे.  पटना में तीन फरवरी को आयोजित राहुल गांधी की रैली में राजद नेता तेजस्वी यादव, रालोसपा नेता उपेंद्र कुशवाहा आदि भी शामिल हो सकते हैं. माना जा रहा है कि कांग्रेस अपनी इस मेगा रैली से बिहार में शक्ति प्रदर्शन करेगी और इसके बाद ही महागठबंधन में सीटों के बंटवारे का ऐलान किया जायेगा. जानकार सूत्रों के अनुसार ऐसा कांग्रेस पार्टी द्वारा अनौपचारिक रूप से पार्टी की तीन फरवरी को पटना में होने वाली रैली के मद्देनजर किया गया है. कांग्रेस का आग्रह है कि वर्तमान में सारे नेता इस रैली के आयोजन में व्यस्त हैं इसलिए तीन फरवरी के बाद ही सीटों की संख्या और नाम के बारे में घोषणा की जाये.

इसे भी पढ़ें : आईसीआईसीआई बैंक : चंदा कोचर के खिलाफ FIR करनेवाले सीबीआई अफसर का रांची तबादला

 

Related Articles

Back to top button