National

राजग सरकार ने आधार को ‘दैत्याकार’ रूप देने की कोशिश की : चिदंबरम

New Delhi : कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने आधार पर उच्चतम न्यायालय के फैसले की सराहना करते हुए बुधवार को कहा कि इससे आधार से जुड़ा कांग्रेस का वास्तविक नजरिया बहाल हुआ है. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि राजग सरकार ने आधार को ‘दैत्याकार’ रूप देने की कोशिश की थी. पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा, ‘‘राजग ने आधार को एक ऐसा दैत्याकार रूप देने की कोशिश की जो व्यक्ति के जीवन के हर पहलू में दखल देता। राजग सरकार को सख्ती से खारिज कर दिया गया है.’’

दरअसल , उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को अपने फैसले में केन्द्र की महत्वाकांक्षी योजना आधार को संवैधानिक रूप से वैध करार दिया. प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने अपने फैसले में कहा कि आधार का लक्ष्य कल्याणकारी योजनाओं के लाभ को समाज के वंचित तबके तक पहुंचाना है और वह ना सिर्फ व्यक्तिगत बल्कि समुदाय के दृष्टिकोण से भी लोगों के सम्मान का ख्याल रखती है.

इस निर्णय के अनुसार, आधार कार्ड/नंबर को बैंक खाते से लिंक/जोड़ना अनिवार्य नहीं है. इसी तरह टेलीकॉम सेवा प्रदाता, उपभोक्ताओं को अपने फोन से आधार नंबर को लिंक कराने के लिये नहीं कह सकते. पीठ ने कहा कि आयकर रिटर्न भरने और पैन कार्ड बनवाने के लिए आधार अनिवार्य है.

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: