न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दो-तीन साल में देश से नक्सलियों का पूरी तरह खात्मा कर दिया जायेगा : राजनाथ सिंह

आगामी दो-तीन सालों में देश से नक्सलियों का पूरी तरह खात्मा कर दिया जायेगा. सीआरपीएफ ने नक्सलवाद, माओवाद और आतंकवाद पर काफी हद तक नियंत्रण पा लिया है.

87

Lucknow :   आगामी दो-तीन सालों में देश से नक्सलियों का पूरी तरह खात्मा कर दिया जायेगा. सीआरपीएफ ने नक्सलवाद, माओवाद और आतंकवाद पर काफी हद तक नियंत्रण पा लिया है. केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह लखनउ में आयेजित रैपिड एक्शन फोर्स के 26वें स्थापना दिवस समारोह में रविवार को बोल रहे थे.  कहा कि सीआरपीएफ ने इस वर्ष जनवरी से 20 सितंबर के बीच 131 नक्सलियों व आतंकवादियों को मार गिराया है. 1278 जिंदा भी पकड़े हैं. साथ ही 58 आतंकियों व नक्सलियों ने सीआरपीएफ के सामने आत्मसमर्पण किया है. भारी मात्रा में हथियार, गोला, बारूद और विस्फोटक सामग्री बरामद की गयी है.  इस क्रम में गृह मंत्री ने कहा कि पहले नक्सली व माओवादी सुरक्षाकर्मियों को मार गिराते थे,  लेकिन आज स्थिति पूरी तरह से पलट चुकी है. कहा कि पहले  देश के 126 जिले नक्सलवाद-माओवाद से प्रभावित थे,  आज यह महज 10 से 12 जिलों में सिमट गया है.

इसे भी पढ़ें : 2019 लोकसभा चुनाव  : पीएम पद पर शरद पवार की नजर, मोदी चूके तो लग सकती है लॉटरी  

किसी जवान को नौ-नौ गोलियां लगी हों,, उसके बाद भी वह लड़ता रहा और जिंदा हो…..

palamu_12

सीआरपीएफ और विभिन्न राज्यों की पुलिस ने नक्सलवाद-माओवाद को खत्म करने की कवायद शुरू की है,  साथ ही नक्सलवाद से प्रभावित क्षेत्रों में विकास के कार्यो में भी मदद कर रहे हैं. राजनाथ सिंह ने कश्मीर के संदर्भ में कहा कि जिस साहस, धैर्य व सूझबूझ से सीआरपीएफ ने वहां काम किया है,  वह सराहनीय है. कहा कि दुनिया की कोई ताकत हमसे कश्मीर नहीं छीन सकती है. सीआरपीएफ के जवान प्रमोद कुमार की शहादत का जिक्र करते हुए गृहमंत्री ने कहा  कि कुमार ने  बहादुरी के साथ आतंकियों का सामना किया था. ऐसा सिर्फ सीआरपीएफ में ही देखा गया है कि किसी जवान को नौ-नौ गोलियां लगी हों,, उसके बाद भी वह लड़ता रहा और जिंदा हो.

राजनाथ सिंह ने रैपिड एक्शन फोर्स के जवानों की तारीफ करते हुए कहा कि वे रैपिड एक्शन के लिए जाने जाते हैं रैपिड कम से कम संसाधन में अधिकाधिक रिजल्ट देते हैं.  उ रैपिड एक्शन का मतलब कभी भी रैकलेस एक्शन नहीं हो सकता  राजनाथ सिंह ने जानकारी दी कि आरएएफ की पांच नयी बटालियनें बनायी गयी हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: