न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सुरक्षाबलों की मुस्तैदी से नक्सलियों के मंसूबे विफल, 26 अतिसंवेदनशील सीटों पर हुआ शांतिपूर्ण मतदान

781

Ranchi: झारखंड में विधानसभा चुनाव शुरू होने से पहले नक्सलियों ने जिस तरह से लातेहार, पलामू और लोहरदगा में बड़ी नक्सली घटना का अंजाम दिया था इससे आशंका जतायी जा रही थी कि चुनाव के दौरान नक्सली दहशत फैलाने के लिए बड़ी घटना का अंजाम दे सकते हैं. लेकिन सुरक्षाबलों की मुस्तैदी से नक्सली अपने मंसूबे में सफल नहीं हो पाये.

झारखंड में अबतक तीन चरणों का चुनाव संपन्न हो चुका है. इन तीन चरणों में 12 अति नक्सल प्रभावित जिलों के 26 विधानसभा सीटों पर शांतिपूर्ण मतदान हुआ. छिटपुट घटनाओं को छोड़ नक्सली किसी भी बड़ी घटना का अंजाम देने में सफल नहीं हो पाये.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें- पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार #ArvindSubramanian ने कहा, देश की अर्थव्यवस्था आईसीयू की ओर, यह सामान्य मंदी नहीं है

26 विधानसभा सीटों पर शांतिपूर्ण तरीके से हुआ मतदान

झारखंड में पांच चरणों में विधानसभा चुनाव होना है. अब तक तीन चरण के चुनाव संपन्न हो चुके हैं. जिनमें पलामू जिला के पांकी, छतरपुर, विश्रामपुर और हुसैनाबाद ,चतरा जिले के चतरा और सिमरिया, लातेहार और मनिका, गुमला जिला के सिसई और बिशनपुर, लोहरदगा, बोकारो जिला के गोमिया, गिरिडीह जिला के धनवार, जमशेदपुर जिला के घाटशिला, रांची जिला के तमाड़, सरायकेला जिले के सरायकेला और खरसावां, चाईबासा, मझगांव, जगन्नाथपुर, मनोहरपुर और चक्रधरपुर, सिमडेगा और कोलीबिरा, खूंटी और तोरपा विधानसभा सीट अति नक्सल प्रभावित है. सभी 12 अति नक्सल प्रभावित जिले के 26 विधानसभा सीटों पर नक्सलियों का प्रभाव है. इन सभी सीटों पर शांतिपूर्ण तरीके से मतदान संपन्न हो चुका है.

इसे भी पढ़ें- #SaveIndiaRally : सोनिया गांधी ने कहा, देश में अंधेर नगरी चौपट राजा जैसा माहौल, राहुल बोले, मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं…

चुनाव के दौरान इन घटनाओं को नक्सलियों ने दिया था अंजाम

पहले चरण चुनाव में नक्सलियों ने चुनाव से ठीक पहले गुमला में बम विस्फोट कर दहशत फैलाने की कोशिश की थी, लेकिन इसका कोई असर नहीं पड़ा.

दूसरे चरण के चुनाव में नक्सलियों ने चाईबासा में वोटिंग से पहले विस्फोट और फायरिंग की थी इसके अलावा नक्सलियों ने मतदाताओं को लेने जा रही बस को आग के हवाले कर दिया था.खूंटी में मतदान कराकर लौट रही पुलिस पर नक्सलियों ने फायरिंग की थी और मतदान के अगले दिन रांची के तमाड़ में नक्सलियों के आईडी की चपेट में आने से दो जवान घायल हो गए थे. तीसरे चरण के चुनाव में नक्सलियों के द्वारा किसी भी तरह की घटना का अंजाम नहीं दिया गया.

Related Posts
Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

किस जिले में कौन से नक्सली हैं सक्रिय

  • गुमला जिले में बलराम और सुदर्शन.
  • लातेहार जिले में रविंद्र गंझू, राजेश गंझू, गोबिंद लोहरा, मुनेश्वर गंझू और अघनू गंझू, छोटू खेरवार.
  • चतरा जिले में आलोक यादव, सहदेव यादव, विक्की सिंह और छोटू सिंह.
  • पलामू जिले में अभिजीत यादव उर्फ बनवारी उर्फ महावीर, प्रसाद उर्फ सुजीत यादव और मुरारी सिंह खरवार.
  • लोहरदगा जिले में रविन्द्र गंझु.
  • खरसावां के नक्सल प्रभावित इलाके में अनल उर्फ पातिराम, महाराजा प्रमाणिक.
  • चाईबासा जिले में प्रशांत बोस और दलमा क्षेत्र में रामनाथ मार्डी उर्फ सचिन, जीवन कंडूलना.
  • जमशेदपुर जिले के बंगाल सीमा, घाटशिला, पटमद में असीम मंडल उर्फ आकाश दस्ते की सक्रियता है.
  • रांची जिले के तमाड़ क्षेत्र में महाराजा प्रमाणिक और बोयदा पाहन का दस्ता सक्रिय है.
  • खूंटी में पीएलएफआइ उग्रवादी संगठन की सक्रियता है हालांकि हाल के दिनों में नक्सली बोयदा पाहन के दस्ते की सक्रियता बढ़ी है.
  • सिमडेगा जिले में पीएलएफआइ उग्रवादी सक्रिय हैं.

चुनाव में दौरान सुरक्षाबलों की मुस्तैदी ऐसी थी कि ये नक्सली किसी भी बड़ी घटना को अंजाम देने में सफल नहीं हो पाये.

इसे भी पढ़ें- आखिरी चरण में संथाल तय करेगा झारखंड की अगली सरकार, फिलहाल आधी सीटों पर गठबंधन का परचम

चुनाव से पहले नक्सलियों ने बड़ी घटना को दिया था अंजाम

विधानसभा चुनाव शुरू होने से पहले नक्सलियों ने प्रथम चरण चुनाव से ठीक पहले लातेहार के चंदवा में पीसीआर वैन पर हमला किया था. इस हमले में चार जवान शहीद हो गये थे.

इसके अगले दिन ही नक्सलियों ने पलामू में दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी और फिर उसी दिन नक्सलियों ने लोहरदगा में जेसीबी को आग के हवाले कर दहशत फैलाने का काम किया था. लेकिन इस घटना के बाद पुलिस ने रणनीति बनायी कि चुनाव के अलावा प्रत्येक इलाकों में दस्तों को चिन्हित किया जाये और जहां पर जो दस्ता सक्रिय है, वहां घेराबंदी कर उसकी मूवमेंट पर रोक लगा दी गयी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like