न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गीतांजलि एक्सप्रेस को निशाना बना सकते हैं नक्सली, महालीमोरूप स्टेशन पर निशाना बनाने की तैयारी

520

Ramchi: नक्सली संगठन गीतांजलि एक्सप्रेस को निशाना बना सकते हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरपीएफ को खुफिया सूचना मिली है कि नक्सलियों के द्वारा गीतांजलि एक्सप्रेस उड़ाने की घटना को चक्रधरपुर रेल मंडल के अंतर्गत आनेवाले महालीमोरूप स्टेशन पर निशाना बनाने की तैयारी है.

योजना को अंजाम देने की जगह और तारीख भी बतायी गयी है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नक्सलियों के द्वारा घाटशिला थाना में इससे संबंधित पत्र फेंका गया था. हालांकि अभी इस सूचना की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गयी है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें – #BJP विधायक ढुल्लू महतो सहित पांच को डेढ़ साल की सजा, बरोरा थानेदार की वर्दी फाड़ने का मामला

20 सक्रिय नक्सली दे सकते हैं घटना को अंजाम

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरपीएफ को खुफिया इनपुट मिला है कि सरायकेला-खरसावां जिले के कुचाई, खरसावां और पश्चिमी सिंहभूम जिले के झींकपानी इलाके में सक्रिय 20 नक्सली सीनी और राजखरसावां सेक्शन के महालीमोरूप स्टेशन पर रेल पटरी को उड़ा कर गीतांजलि एक्सप्रेस को दुर्घटनाग्रस्त करा सकते हैं.

बताया जा रहा है कि नक्सलियों के द्वारा गीतांजलि एक्सप्रेस को 8 अक्टूबर से 11 अक्‍टूबर के बीच उड़ाने की योजना है.

गीतांजलि एक्सप्रेस को निशाना बनाने की योजना के मास्टरमाइंड भाकपा माओवादी संगठन के नक्सली हुंडरू महाली, रणजीत महाली और साहनी हैं.

बरती जा रही है सतर्कता

मिली जानकारी के अनुसार नक्सलियों के द्वारा गीतांजलि एक्सप्रेस को निशाना बनाने का खुफिया इनपुट मिलने के बाद दक्षिण-पूर्व रेलवे चक्रधरपुर के वरीय मंडल सुरक्षा आयुक्त ने सीनियर डीईएन को-ऑर्डिनेशन, सीनियर डीईई ऑपरेशन और सीनियर डीओएम को पत्र लिख कर खास कदम उठाने के सुझाव दिये हैं.

सुझावों में सभी यात्री ट्रेनों के गुजरने से पहले सिर्फ इंजन या मालगाड़ी चलाने, गैंगमैन की लगातार पेट्रोलिंग और लोको पायलट और सहायक लोको पायलट को अलर्ट करने का सुझाव शामिल है.

इसे भी पढ़ें – #RSS: आर्थिक मंदी के बाद अब मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं को भी नकारने की कवायद

झारखंड में पहले भी ट्रेन को निशाना बनाने की गयी है साजिश

29 मई 2017: नक्सलियों ने झारखंड के गिरिडीह जिले में रात को जम कर उत्पात मचाया था इस दौरान नक्सलियों ने रेल पटरी उड़ा दी थी जिसमें देहरादून एक्सप्रेस बाल बाल बच गयी थी.

16 अक्टूबर 2018 : धनबाद-गया रेल मार्ग पर एक बड़ा रेल हादसा होते-होते रह गया था. चौधरी बांध और चिंगड़ो रेलवे स्टेशन के बीच नक्सलियों ने रेल की पटरी को विस्फोट से उड़ा दिया था.

9 नवंबर 2018: झारखंड के गिरिडीह ज़िले में नक्सलियों ने रेल की पटरी को विस्फोट से उड़ा दिया.

इसे भी पढ़ें – आवाज की जांच के लिए चिन्मयानंद और पीड़िता को ले जाया गया लखनऊ

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like