JharkhandLead NewsRanchi

नक्सलियों ने लेवी वसूल बनाई करोड़ों की संपत्ति, झारखंड पुलिस कर रही जांच

Ranchi: दहशत कायम कर लेवी-रंगदारी वसूलकर अकूत संपत्ति बनाने वाले नक्सलियों व उग्रवादियों की संपत्ति की जांच झारखंड पुलिस कर रही है. झारखंड में अक्सर नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ होती रहती है. हाल के दिनों में गुमला और खूंटी में नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ में 15 लाख का इनामी नक्सली बुद्धेश्वर उरांव और खूंटी में 10 लाख का इनामी नक्सली सनीचर सुरीन मारा गया था.

झारखण्ड पुलिस को इस बात की पक्की जानकारी हैं की झारखंड में मारे गए नक्सलियों ने लेवी वसूल कर अकूत संपत्ति बनाई थी. झारखण्ड पुलिस द्वारा नक्सलियों की संपत्ति जब्त की जाएगी. गुमला एसपी ने बताया कि नक्सलियों की संपत्ति की जानकारी एकत्र करने का टास्क दे दिया गया है. एसपी ने उग्रवादियों की चल-अचल संपत्ति की जानकारी जुटाकर इसकी रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया है.

इसे भी पढ़ें : दर्जा प्राप्त पूर्व राज्यमंत्री और उसके पिता की 2.54 अरब की संपत्ति कुर्क, 10 करोड़ से अधिक की लग्जरी कारें जब्त

खूंटी जिले में भी पुलिस के साथ मुठभेड़ में पीएलएफआई का हार्डकोर नक्सली सनीचर सुरीन मारा गया था. खूंटी पुलिस के द्वारा सनीचर सुरीन की संपत्ति की जांच की जा रही है. मुठभेड़ में मारे गए दोनों नक्सलियों के अलावा कई नक्सली गिरफ्तार भी हुए हैं. उन नक्सलियों की कुंडली पुलिस खंगाल रही है. नक्सलियों ने कहां-कहां से लेवी वसूला और कितनी की प्रोपर्टी बनाई है.

झारखंड पुलिस अबतक 32 माओवादियों की संपत्ति जब्त कर चुकी है. खूंटी पुलिस पूर्व में पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप की संपत्ति जब्त कर चुकी है, लेकिन अब नए सिरे से दिनेश गोप सहित कई नक्सलियों की संपत्ति का पता चला है. इस जानकारी के बाद झारखंड पुलिस मुठभेड़ में मारे गए नक्सली और पकड़े गए नक्सलियों के अलावा अन्य नक्सलियों की संपत्ति की जांच चल रही है.

इसे भी पढ़ें : झारखंड कांग्रेस के संगठन में हो सकता है बड़ा फेरबदल

Related Articles

Back to top button