JharkhandLohardagaRanchi

गांवों से निकलकर शहर में पुलिस को चुनौती देने लगे हैं नक्सली

Ranchi :  ग्रामीण क्षेत्र के बाद नक्सली अब शहरी क्षेत्रों में अपना वर्चस्व कायम करने की फिराक में है. हाल के दिनों में नक्सली शहरी क्षेत्रों में पोस्टरबाजी कर दहशत फैलाने की कोशिश की. हालांकि झारखंड पुलिस नक्सलियों के करतूत पर नजर रख रही है. बीते दिनों डीजीपी नीरज सिन्हा ने जिले के सभी एसपी को नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाने का आदेश दिया है.

इसे भी पढ़ें : सऊदी अरब में तब्लीगी जमात पर प्रतिबंध, सरकार ने संगठन को आतंकवाद के द्वारों में से एक बताया

नक्सलियों के खिलाफ लगातार चलाए जा रहे ऑपरेशन से नक्सलियों की कमर टूट गई है. पिछले दिनों नक्सली नेता प्रशांत बोस और उसकी पत्नी शीला मरांडी की गिरफ्तारी के बाद संगठन पहले से और कमजोर हो गया है. लेकिन नक्सली अपने नेता की गिरफ्तारी से गुस्से में हैं वो अब शहरी क्षेत्र में पोस्टरबाजी कर पुलिस को चुनौती दे रहे हैं.

Catalyst IAS
ram janam hospital

पिछले एक माह में नक्सलियों ने लोहरदगा जिले के शहरी इलाके में दो बार पोस्टर बाजी की है और एक बार फायरिंग की घटना को अंजाम दिया है. ताज्जुब की बात तो यह है कि नक्सली शहर में पोस्टर चिपका कर फरार हो जा रहे हैं और पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है. पोस्टर के बहाने नक्सली लोगों से अपने संगठनों में शामिल होने और सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करने की अपील कर रहे हैं.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : टेल्को में पारिवारिक विवाद में मारपीट, तीन घायल

केस 1.    5 दिसम्बर 2021 को लोहरदगा जिले के सेन्हा थाना क्षेत्र में बिजली के पोल, सरकारी भवन और लोगों के घर के बाहर भाकपा माओवादी नक्सलियों ने पोस्टरबाजी की थी. पोस्टर में जल जंगल का अधिकार, पूंजीवाद, दंडकारणीय में ड्रोन हमले का विरोध और भारतीय सेना और आरएसएस के खिलाफ पोस्टरबाजी की गई थी. पोस्टरबाजी से इलाके में भय का माहौल है.

केस 2.    11 दिसम्बर 2021 को लोहरदगा जिले के सेरेंगदाग थाना क्षेत्र में नक्सलियों ने गोलीबारी की घटना को अंजाम दिया. पुलिस को सूचना मिलने के बाद पुलिस और प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई. जिसमे दोनों ओर से घंटो तक गोलियां चलीं.

लोहरदगा एसपी प्रियंका मीणा ने बताया कि नक्सलियों के खिलाफ सर्च अभियान जारी है. एसपी प्रियंका मीणा ने बताया कि रविंद्र गंझू के दस्ता ने पोस्टर बाजी और फायरिंग की घटना को अंजाम दिया है. पुलिस नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है.

इसे भी पढ़ें : टाटा कंपनी के खिलाफ उलियान ग्राम प्रधान के नेतृत्व में लोगों ने खोला मोर्चा

Related Articles

Back to top button