न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विकास कार्यों में लगे वाहनों को जलाकर सरकार को सीधे चुनौती दे रहे नक्सली

20

Ranchi: एक तरफ जहां पुलिस, नक्सलियों के खिलाफ अभियान तेज करने और आर्थिक क्षति पहुंचाने की कोशिश में जुटी है. वहीं दूसरी तरफ नक्सली विकास कार्यों में लगे वाहनों को जलाकर सरकार को सीधे चुनौती दे रहे हैं. नक्सली अब अपने टूटे संगठन को फिर से बनाने के लिए लगातार घटना को अंजाम दे रहे हैं. इसके पीछे नक्सलियों का मुख्य मकसद लेवी वसूलना है. ताकि लेवी के पैसे से वो फिर से संगठन को खड़ा कर सके.

हतोत्साहित होकर नक्सली दे रहे घटना को अंजाम

नक्सलियों के द्वारा झारखंड में लेवी के लिए और अपना दहशत कायम रखने के लिए लगातार वाहन जलाने और पोस्टरबाजी के मामले सामने आ रहे हैं. लेकिन पुलिस का इस मामले के पीछे कहना है कि हतोत्साहित होकर नक्सली इस तरह के घटना का अंजाम दे रहे हैं.

नक्सलमुक्त झारखंड का दावा फेल

राज्य के डीजीपी पिछले दो सालों से झारखंड से नक्सली के खात्मे का दावा कर रहे थे. लेकिन ये दावा आज तक पूरा नहीं हो पाया. लोकिन कई नक्सली वारदात को रोक पाने में पुलिस विफल साबित हो रही है. खासकर विकास कार्यों में लगे वाहनों और उपकरणों को क्षति पहुंचा कर सीधे-सीधे सरकार के विकास कार्यों की प्राथमिकता को नक्सली चुनौती दे रहे हैं.

फूंकते हैं वाहन और मशीनें

सभी उग्रवादी संगठनों और नक्सली संगठनों के द्वारा लेवी वसूलने के लिए लगातार घटना को अंजाम दिया जा रहा है. उग्रवादी संगठनों और नक्सली संगठनों के द्वारा सड़क निर्माण कार्य में लगी कंपनी, क्रशर संचालक, टावर लगानेवाली कंपनी सहित अन्य कारोबारियों से लेवी वसूली हो रही है. लेवी नहीं देने पर वाहनों में आग लगा कर दहशत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं. लेवी से वसूले गए रुपयों को नक्सली संगठन को मजबूत बनाने में इस्तेमाल कर रहे हैं और कुछ रुपए से संगठन के बड़े नक्सली अपनी संपत्ति भी बढ़ा रहे हैं.

नक्सली शहरी क्षेत्र में लेने लगे हैं शरण

जंगलों में पुलिस द्वारा लगातार चलाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान और पुलिस की बढ़ती दबिश के कारण हाल के दिनों में नक्सली और उग्रवादी संगठन के लोग शहरी क्षेत्रों में शरण लेने लगे हैं. नक्सलियों के समर्थक और संरक्षक उन्हें शहर में ना सिर्फ आवास और दूसरी सुविधाएं उपलब्ध कराते हैं बल्कि आर्थिक मदद भी करते हैं और उनके समर्थन में एक जन समर्थन बनाने का प्रयास करते हैं.

हाल के महीनों में नक्सलियों द्वारा घटित मुख्य घटनाएं

01 मई : रांची में तमाड़ थाना क्षेत्र के विजयगिरी डैम के पास माओवादियों ने सवारी गाड़ी के चालक अब्राहम टोपनो की गला रेतकर हत्या कर दी.

02 मई : लेवी को लेकर रांची में लापुंग थाना के अकमरौम कैलुटोली में पीएलएफआइ के उग्रवादियों ने ग्रामीण विजय मुंडा उर्फ अरविंद होरो की गोली मारकर हत्या कर दी.

05 मई : रांची में खलारी के दमदमिया चौक पर लेवी के लिए माओवादियों ने सीसीएल के स्टाफ बस को आग के हवाले कर दिया. दूसरी बस को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया.

06 मई : लेवी के लिए लातेहार के बालूमाथ थाना क्षेत्र के चमातू में जेपीसी के नक्सलियों ने कुंडी कोलियरी से कोयला लेकर आ रहे तीन ट्रकों को जला दिया. चालक-खलासी से मारपीट की और फायरिंग भी की.

08 मई : गिरिडीह जिले के पीरटांड़ थाना क्षेत्र के बांध मोड़ स्थित चिरकी नाला के पास माओवादियों ने लेवी के लिए आगजनी की. यहां सड़क निर्माण में लगे पांच हाइवा, दो डंपर, दो पोकलेन, दो पानी टैंकर व एक ट्रैक्टर को आग के हवाले किया.

09 जून : चाईबासा के गोयलकेरा में सड़क निर्माण में लगे 13 वाहनों को नक्सलियों ने फूंक डाला.

3 अगस्तः भाकपा माओवादियों ने झारखंड बंद के दौरान खूंटी जिले में शुक्रवार को दिनदहाड़े एक पाइप लदे ट्रेलर को आग के हवाले कर उसके चालक जोगा सिंह को पहले गोली मारी उसके बाद उसी में जिंदा जला दिया.

16 अक्टूबरः दो दिवसीय बंद के दौरान नक्सलियों ने लोहरदगा के कडुआपानी-मसुरियाखाड़ में नौ ट्रकों को आग के हवाले कर दिया.

16 अक्टूबरः झारखंड के पलामू जिला में नक्सलियों ने गुरुवार देर रात लरमी घाटी के समीप सड़क निर्माण में लगी मशीनों को आग के हवाले कर दिया है.

20 अक्टूबरः हजारीबाग जिले के चौपारण में एक बार नक्सलियों की धमक देखने को मिली. जहां जलाशय योजना के साइट पर धावा बोलकर निर्माण कार्य में लगे तीन वाहनों समेत अन्य सामग्री को आग के हवाले कर दिया.

4 नवंबरः हजारीबाग जिले में नक्सलियों ने एनटीपीसी के लिए कोयला खनन और ढुलाई में लगी त्रिवेणी सैनिक माइनिंग लिमिटेड के साईट पर हमला बोल दिया. इस घटना में नक्सलियों ने पांच वाहनों और मशीनों में आग लगा दी.

4 नवंबरः लातेहार के चंदवा थाना क्षेत्र के डूमारो पंचायत अंतर्गत बरवाटोला गांव के समीप पुल निर्माण कार्य में लगे दो वाहनों समेत तीन वाहनों को जला दिया.

10 नवंबरः लातेहार के चंदवा थाना क्षेत्र में रविवार की दोपहर नक्सलियों ने जमकर उत्पात मचाया. दो स्थानों पर कुल चार वाहनों में आग लगा दी.

20 नवंबरः झारखंड जनमुक्ति मोर्चा(जेजेएम) से संबंध रखने वाले वाम मोर्चे के नक्सलियों ने कुंडी कोयला खदान से आ रहे कोयले से लदे वाहनों को बुकरु गांव में जला दिया.

इसे भी पढ़ेंःहर महीने एक लाख किलो से ज्यादा अनाज घोटाले की आशंका, मंत्री ने दिए जांच के आदेश

इसे भी पढ़ेंःलेबर कोर्ट पहुंचा इंडिकोन-वेस्टफालिया की बिक्री का मामला

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: