BiharJharkhandRanchi

झारखंड-बिहार के सीमावर्ती इलाकों में बढ़ी नक्सली गतिविधियां, पुलिस सतर्क

विज्ञापन
Advertisement

Ranchi: बिहार-झारखंड के सीमावर्ती इलाकों में नक्सलियों की गतिविधियां बढ़ गयी है. बिहार के कई बड़े नक्सलियों ने बिहार – झारखंड के सीमावर्ती जिलों में अपनी सक्रियता बढ़ा दी है. बीते 9 मई को पलामू में पिपरा थाना क्षेत्र में नक्सलियों ने 13 वाहनों को आग के हवाले कर दिया था.

इसके अलावा बीते 18 जून को कोडरमा के सतगावां में बिहार- झारखंड स्पेशल एरिया कमेटी सदस्य प्रद्युम्न शर्मा के दस्ते के साथ पुलिस की मुठभेड़ हुई थी. इस मुठभेड़ में बिहार के नवादा जिले का नक्सली श्रवण भुइयां मारा गया था.इन घटनाओं में बिहार के नक्सली शामिल थे.जो बिहार झारखंड के सीमावर्ती जिले में सक्रिय है.

इसे भी पढे़ें- शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तारः 20 कैबिनेट-आठ राज्यमंत्री ने ली शपथ, 12 सिंधिया समर्थक को मिला मौका

advt

बिहार झारखंड के सीमावर्ती जिले में ये नक्सली हैं सक्रिय

गिरिडीह-जमुई, कोडरमा-नवादा बॉर्डर पर सैक सदस्य करुणा, पिंटू राणा और प्रदुमन शर्मा का दस्ता सक्रिय है. हजारीबाग- चतरा-गया बोर्डर पर माओवादी रीजनल कमेटी सदस्य इंदल गंझू और आलोक का दस्ता सक्रिय है. औरंगाबाद-पलामू-गया-चतरा बोर्डर पर सैक सदस्य संदीप, विवेक और अभिजीत का दस्ता सक्रिय हैं. बिहार के चकरबंधा में माओवादी संगठन की कमान प्रमोद मिश्रा, विवेक के द्वारा संभाले जाने के बाद बिहार से झारखंड में माओवादी गतिविधियों का संचालन किया जा रहा है.

इसे भी पढे़ें- RJD विधायक शाहनवाज आलम कोरोना पॉजिटिव, खुद जांच कराने पहुंचे थे हॉस्पिटल

पुलिस नक्सलियों के खिलाफ लगातार चला रही अभियान

सुरक्षाबलों के द्वारा लगातार चलाए जा रहे अभियान व सतर्कता से नक्सली परेशान हैं. झारखंड में भाकपा माओवादियों की गतिविधि पर लगाम लगाने के लिए राज्य की सीमाओं पर संयुक्त अभियान चलाया जा रहा है. डीजीपी एमवी राव के आदेश पर राज्य में एक महीने तक सीमावर्ती इलाकों में पुलिस, सीआरपीएफ व जगुआर के स्मॉल एक्शन टीम की मदद से अभियान चला रही है.

खासकर बूढ़ा पहाड़ पर पुलिस और केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल पूरी मुस्तैदी से कार्रवाई कर रहे हैं. इसके अलावा पलामू, गढ़वा, गिरीडीह आदि इलाकों में भी नक्सलियों की घेराबंदी की जा रही है. लॉकडाउन में राहत के बाद राज्य में कई जगहों पर विकास योजनाओं के लंबित काम को शुरू कर दिया गया है. ऐसे में भाकपा माओवादियों की सक्रियता भी बढ़ी है. मालूम हो कि इस वर्ष पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में 9 नक्सली मारे गये हैं. जबकि एक जवान शहीद हुआ है और एक एसपीओ की मौत हुई है.

इसे भी पढे़ें- JDU के विधायक ने सोशल डिस्टेंसिंग को दिखाया ठेंगा, नीतीश के गृह जिले में खुलेआम की बैठक   

advt
Advertisement

3 Comments

  1. Aw, this was a really good post. Taking a few minutes and actual
    effort to make a really good article… but what can I say… I procrastinate a lot and don’t manage to
    get nearly anything done. adreamoftrains hosting services

  2. I was recommended this web site by means of my cousin. I am now not positive whether or not this put up is written via him as nobody else
    recognise such special approximately my difficulty.
    You are incredible! Thank you!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: