न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने कहा,  गांधी  परिवार का कोई कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बना तो पार्टी  24 घंटे में बिखर जायेगी

देश की 134 साल पुरानी पार्टी के पास पार्टी अध्यक्ष नहीं है. मुझे नहीं लगता कि गांधी परिवार के अलावा किसी और को अध्यक्ष चुना जाना चाहिए

53

NewDelhi : पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने कहा है कि अगर कांग्रेस  पार्टी की कमान किसी गैर गांधी के हाथ में जायेगी तो पार्टी बिखर सकती है  जान लें कि राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद से पार्टी नेतृत्व को लेकर अभी तक संशय बना हुआ है.  हालांकि  कुछ लोग प्रियंका गांधी वाड्रा का अध्यक्ष पद के लिए समर्थन कर रहे हैं.  यूपी के सोनभद्र में एक गोलीबारी की घटना में मारे गये लोगों के परिजनों से प्रियंका की मुलाकात की तारीफ करते हुए पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने  एएनआई से कहा कि वह पार्टी को संभालने में सक्षम हैं. उन्होंने कहा, आपने देखा होगा कि उन्होंने उत्तर प्रदेश के एक गांव में क्या किया. यह अद्भुत था. वह वहीं रुकी और जो करना चाहती थीं, वह किया.

नटवर  सिंह ने कहा कि राहुल गांधी वह फैसला बदलें जिसमें कहा था कि गांधी परिवार के बाहर का कोई कांग्रेस अध्यक्ष बने.पूछे जाने पर कि क्या प्रियंका गांधी को पार्टी अध्यक्ष के तौर पर चुना जायेगा तो नटवर सिंह का जवाब था कि ‘यह प्रियंका पर निर्भर करता है, क्योंकि उनके राहुल गांधी ने कहा था कि गांधी परिवार से कोई भी कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बनेगा. अब परिवार को फैसला बदलना होगा और केवल वह ही ऐसा कर सकते हैं.

प्रियंका गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाया जाना चाहिए

Related Posts

पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकियों को दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा से गिरफ्तार किया

अधिकारियों के अनुसार गिरफ्तार  जैश-ए-मोहम्मद के सदस्यों में संबंधित ट्रक का मालिक भी शामिल है

पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के बेटे अनिल शास्त्री ने  भी कहा था कि प्रियंका गांधी वाड्रा को कांग्रेस अध्यक्ष बनाया जाना चाहिए. उनके अलावा कोई और नहीं. वह 100 फीसदी स्वीकार हैं.  एएनआई से बात करते हुए शास्त्री ने चेताया था कि अगर किसी और को पार्टी अध्यक्ष बनाया जाता है तो पार्टी का एक धड़ा उसे स्वीकार नहीं करेगा. पार्टी के बिखरने की संभावना है. नटवर सिंह ने यही बात कही, अगर गांधी परिवार के बाहर से किसी को चुना जाता है तो पार्टी 24 घंटे के अंदर टूट जायेगी. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि देश की 134 साल पुरानी पार्टी के पास पार्टी अध्यक्ष नहीं है. मुझे नहीं लगता कि गांधी परिवार के अलावा किसी और को अध्यक्ष चुना जाना चाहिए

इसे भी पढ़ेंःसत्यपाल मलिक ने आतंकियों से कहाः बेगुनाहों की जगह उनको मारो जिन्होंने कश्मीर को लूटा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
झारखंड की बदहाली के जिम्मेदार कौन ? भाजपा, झामुमो या कांग्रेस ? अपने विचार लिखें —
झारखंड पांच साल से भाजपा की सरकार है. रघुवर दास मुख्यमंत्री हैं. वह हर रोज चुनावी सभा में लोगों से कह रहें हैं: झामुमो-कांग्रेस बताये, राज्य का विकास क्यों नहीं हुआ ?
झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन कह रहें हैं: 19 साल में 16 साल भाजपा सत्ता में रही. फिर भी राज्य का विकास क्यों नहीं हुआ ?
लिखने के लिये क्लिक करें.

you're currently offline

%d bloggers like this: